Friday, May 14

भोपाल संभाग

नेताजी के रिश्तेदार होने का बेजा लाभ उठा रहे हैं जेलर नरेन्द्र कटारे
गंजबासौदा

नेताजी के रिश्तेदार होने का बेजा लाभ उठा रहे हैं जेलर नरेन्द्र कटारे

गंजबासौदा। सुनील पंथी नेताजी के रिश्तेदार होने का बेजा लाभ उठा रहे हैं जेलर नरेन्द्र कटारे बासौदा उपजेल में पदस्थ जेलर नरेन्द्र कटारे नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे के रिश्तेदार बताए जाते हैं इसी का लाभ लेकर जेलर महोदय जेल में मानव अधिकारों का खुला हनन कर रहे हैं। यह आरोप कोई हम नहीं लगा रहे यह बासौदा उप जेल की हकीकत है। जेल में बंद किए जाने वाले व्यक्ति से काम न करने के लिए सेवा शुल्क की मांग की जाती है। सेवा शुल्क न देने पर आमानवीयकृत कराये जाते हैं। इतना ही नहीं जेलर महोदय की सांठ-गांठ स्थानीय नेताओं से है जिनके संरक्षण का लाभ उठा कर जेलर महोदय जैसी सेवा वैसी मेवा का फार्मूला अपनाए हुए हैं। विदिशा जिले के जिम्मेदार अधिकारी अधिकारियों के पास इतना वक्त भी नहीं है के जेल में बंद साधारण धाराओं के कैदियों का हाल जान सकें। वहां बंद सजाआफता कैदियों की रंगदारी के चलते साधारण कैदी बेहद परेशान रहत...
घर-घर बिक रही है दारू
गंजबासौदा

घर-घर बिक रही है दारू

गंजबासौदा में कहने को भले ही दो थाने हो गए हों पर नाकारा पुलिस प्रशासन के चलते अपरोधों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है विगत दिनों दारू माफियों ने मुंबईया स्टाईल में गंजबासौदा की सड़कों पर फायरिंगों का नंगा नांच खेला था। दारू माफियांओं के हौंसालों के आगे पुलिस प्रशासन बोना नजर आता है। आज दारू की स्थिति यह हो चली है कि पान की गुमठी से लेकर गली-गली में आसानी से उपलब्ध है। इसके चलते अपराधों का ग्राफ बढ़ रहा है इतना ही नहीं दारू पीकर गुंडे मबाली सामान्य नागरिकों को बेवजहां परेशान करके अपराधों की ओर मोड रहे हैं। गंजबासौदा के जनमानस के सामने एक बड़ी गंभीर समस्या खड़ी हो गई है। यहां की जनता दोनों थानों के बीच में उलझ कर रह गई है। बासौदा थाना अपनी सीमा के बाहर होने की बात कह कर कार्यवाही से बचता है वहीं देहता थाना अपनी सीमा में न होने के कारण कार्यवाही से बचता है इसका लाभ बासौदा के अपधारी व खूबी उठा रह...
ठंडे पेय पदार्थों के नाम पर बिक रहीं बीमारियां
कुरवाई

ठंडे पेय पदार्थों के नाम पर बिक रहीं बीमारियां

कुरवाई। भीषण गर्मी के सीजन में प्रत्यक प्रमुख स्थान, गली चौराहे पर ठण्डा पेय सामग्री बेचने दुकाने लग गई हैं। इन दुकानों पर ठण्डे पेयपदार्थों के नाम पर बिना साफ सफाई गुणवत्ता का ध्यान रखे सेकरीन, वर्फ का अधिक उपयोग कर मनमापे दामों में बीमारियों का कारण बनने वाली सामग्री का विक्रय किया जा रहा है। ठण्डे पेय पदार्थों की निरंतर बढती मांग में सामग्री की क्वालिटी गिर रही है। गन्ना, आम का जूस अधिक से अधिक बेचने मुनाफा कमाने के फेर में इनमें क्या डाला जा रहा है। उपयोग करने वाले अनजान बने हुए हैं। बासी सामग्री का विक्रय: होटलों पर गर्मी के भीड़ भाड़ वाले सीजन में स्वास्थ्य को हानी पहुंचाने वाली सफाई का विक्रय किया जा रहा है। पाउस, बाटल में पैक पानी एवं अन्य ठण्डे पदार्थों के नाम पर विक रही सामग्री का क्या स्तर है इसकी परवाह किए बिना लोग जमकर उपयोग कर रहे हैं। गांव-गांव बि रही कुल्फी: पानी सेकर...
गंजबासौदा

अस्पताल में बढऩे लगी मरीजों की भींड़

गंजबासौदा। गर्मी का मौसम बढऩे के कारण शासकीय राजीव गांधी जनचिकित्साल्य में मरीजों की भीड़ उपचार के लिए पहुंच रही है। लेकिन जनचिकित्साल्य में पर्याप्त चिकित्सक मौजूद नहीं होने के कारण बीमारी की अवस्था में मरीजों की घंटों तक लाइन में लगकर परामर्श का इंतजार करना पड़ता है। चिकित्सक के परामर्श के बाद उपचार शुरू हो पाता है। सबसे अधिक परेशानी बुजुर्ग व बच्चों को उठाना पड़ती है। भीड़ के चलते गंभीर रूप से बीमार लोगों को भी परामर्श के लिए इंतजार करना पड़ता है। अस्पताल में 600 से 800 तक मरीज प्रतिदिन उपचार कराने के लिए पहुंच रहे हैं। नागरिक जनचिकित्साल्य को स्वीकृत विस्तारों की संख्या बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। जिससे पर्याप्त चिकित्सक व स्टाफ मिलने से मरीजों को सुविधाएं उपलब्ध हो सकें। वहीं इस संबंध में प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रदीव जैन का कहना है कि ओपीडी की संख्या के साथ प्रतिदिन वरिष्ठ अधिका...
बुजुर्गों की अय्यासी देश की आने वाली पीढ़ी को कौनसी दिशा देगी
गंजबासौदा

बुजुर्गों की अय्यासी देश की आने वाली पीढ़ी को कौनसी दिशा देगी

गंजबासौदा। दिग्विजय सिंह और अमृता राय के फोटो जैसे ही सोसल मीडिया पर आये तो चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। पूरे दिन सोसलमीडिया पर दिग्विजय सिंह और अमृता राय को लेकर चटकारेदार सूचनाएं आदन-प्रदान होती रहीं हैं, वैसे यह पूरा मामला दिग्विजय सिंह का नीजि मामला है पर दिग्विजय सिंह देश के प्रमुख नेताओं में गिने जाते हैं और आए दिन वह किसी न किसी को अपनी जुबान का शिकार बनाते हैं। इसी के चलते यह मामला और ज्यादा तूल पकड़ रहा है। यह सच है कि यह व्यक्तिगत मामला है इस पर ज्यादा चर्चा नहीं होना चाहिए पर जब कोई व्यक्ति देश का नेतृत्व करता है तो देश को उसके सिद्धांतों पर चलने की प्रेरणा मिलती है तो उस स्थिति में जनता अच्छे आचरण की उम्मीद करती है। जब भी इस तरह की कभी बात आती है तो जनता ऐसे ही उदाहरणों का सहारा लेती है। इसीलिए भगवान श्रीराम आर्दश स्थापित करने के लिए वन-वन भटकते रहे और माता सीता को बार-बार अ...
बस स्टैंड पर सुविधाओं की कमी से यात्री हो रहे परेशान
विदिशा

बस स्टैंड पर सुविधाओं की कमी से यात्री हो रहे परेशान

विदिशा। स्थानीय बस स्टैंड सुविधाओं की कमी के कारण यात्रियों के लिए आफत का बस स्टैंड बन चुका है। भीषण गर्मी के बीच यात्रियों को पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। शौचालयों के गेट पर पहुंचकर यात्री वापस लौट रहे हैं। प्रतीक्षालय में पशुओं की गंदगी और धूल भरे फर्स पर यात्रियों को बैठना पड़ रहा है। यात्रियों का कहना है कि कई वर्षो बाद भी बस स्टैंड की सूरत नहीं बदल सकी है। मालूम हो कि यहां बसों के साथ ही यात्रियों की संख्या भी बढ़ी है। हर दिन हजारों यात्री आते-जाते हैं, पर बुनियादी सुविधाओं की कमी से उन्हें समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। अटारीखेजड़ा निवासी किशनलाल आदिवासी, नरेटरन निवासी कमला अहिरवार, राजवीर, ग्यारसपुर निवासी विजय आदिवासी ने बताया कि बस स्टैंड को दुरूस्त करने के नाम पर लाखों रूपए खर्च हुए, पर सुविधाएं नहीं बढ़ीं। जिससे परेशानी होती है। पानी पीने के लिए भटकते यात्री भीषण गर्मी क...
व्यापमं नहीं इस बार संविदा शाला शिक्षकों की परीक्षा लोक शिक्षण विभाग लेगा
भोपाल संभाग

व्यापमं नहीं इस बार संविदा शाला शिक्षकों की परीक्षा लोक शिक्षण विभाग लेगा

भोपाल। व्यावसायिक परीक्षा मंडल में संविदा भर्ती परीक्षा में जो फर्जीवाड़ा हुआ उसका खामियाजा पांच लाख अभ्यार्थी भुगतेंगे। ये वे अभ्यर्थी हैं जो परीक्षा में पास हुए थे मगर भर्ती के लिए इन्हें दोबारा परीक्षा देनी होगी। करीब 20 हजार शिक्षकों की लोक शिक्षण संचालनायल नए सिरे से भर्ती करेगा। व्यापमं फर्जीवाड़ा स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए व्यापमं से पात्रता परीक्षा हुई थी। करीब 60 हजार शिक्षकों के पदों के लिए 17 लाख अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी। इसमें साढ़े पांच लाख अभ्यार्थी पास हुए थे। स्कूल शिक्षा विभाग ने इनमें से 42 हजार शिक्षकों को भर्ती कर लिया है। मगर इसके बाद जो पद खाली बचे हैं उन पर नए सिरे से भर्ती होगी। अधिकारियों के मुताबिक पात्रता परीक्षा में सामने आ रही गड़बडियों को देखते हुए इस पर आगे भर्ती में विवाद उठ सकता है। ऐसे में अब आगे जो भी भर्ती होगी उसके लिए नई पात्रता परी...
गंजबासौदा

आखिर नहीं हो सकी भाजपा में एंट्री पूर्व मंत्री पुत्र की

गंजबासौदा। आज नगर का माहौल सुबाह से ही बड़ा गर्म था चारों ओर एक ही चर्चा सुनाई दे रही थी। की पूर्व कांग्रेसी मंत्री के पुत्र भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने वाले हैं, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कार्यक्रम गंजबासौदा में था इसी कार्यक्रम में मंत्री पुत्र की भाजपा में सदस्यता होनी थी। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सभा में सभी का ध्यान इस ओर था कि आखिर कब सदस्यता ग्रहण की घोषणा होने वाली है पर मुख्यमंत्री महोदय अपना भाषण अपने अंदाज में पूरा करके चल दिए इसी के साथ इस हाई वोल्टेज ड्रामा का अंत यहीं हो गया और लोगों ने राहत की सांस ली इतना ही नहीं एक दूसरे को बधाई भी दी। और कुछ तो यह कहते सुने गए कि आखिर भाजपा में एंट्री नहीं हो सकी आज बासौदा का पूरा मीडिया सिर्फ इसी घटना पर अपनी निगाह रखे हुए था।...
प्रेमिका की सगाई तय होने पर हाईटेंशन खंबे पर चढ़ा प्रेमी
विदिशा

प्रेमिका की सगाई तय होने पर हाईटेंशन खंबे पर चढ़ा प्रेमी

विदिशा। करारिया थानांतर्गत खामखेड़ा चौकी से आठ किलोमीटर दूर ग्राम करेली में उस समय दहशत का माहौल हो गया। जब युवक के बिजली के टावर पर चढऩे की खबर मालूम चली। गांव से गुजरने वाले इस हाईटेंशन लाइन का टावर एक खेत में लगा हुआ था। ग्रामीणों के अनुसार विदिशा में रहकर पढऩे वाला 19 वर्षीय शैलेन्द्र पुत्र रमेश लोधी गांव की ही एक लड़की से प्रेम करता था। एक दिन पहले ही उक्त लड़की की सगाई हुई थी। जिससे नाराज युवक को और कोई रास्ता नजर नहीं आया, वह शुक्रवार की सुबह साढ़े 11 बजे के लगभग टावर पर चढ़ा और सबसे ऊंचे पोल पर जाकर बैठ गया। युवक के पोल पर चढऩे की खबर लगते ही पूरे करेली गांव के साथ-साथ आसपास के दर्जनों गांवों से भी लोगों का हुजूम वहां इकट्ठा हो गया। लोगों ने शैलेन्द्र से कई बार नीचे आने की मिन्नतें की लेकिन वह नीचे नहीं आया। कुछ युवकों ने टॉवर पर चढ़कर उसे उतारने का प्रयास भी किया, लेकिन शैलेन...