Friday, May 14

MP में घर-घर जाकर सर्वे होगा:CM शिवराज ने कहा- सक्रिय मरीजों की संख्या में कमी आने लगी; कर्फ्यू को और सख्ती से लागू करें, चुनाव से आने वाले जवानों का भी टेस्ट होगा

प्रदेश की औसत संक्रमण दर राष्ट्रीय औसत के बराबर आई

मध्यप्रदेश में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए अब घर-घर जाकर सर्वे किया जा जाएगा, ताकि संक्रमितों की पहचान की जाए। यह निर्देश CM शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण निरंतर कम हो रहा है। प्रदेश की औसत साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 21% हो गया है, जो कि राष्ट्रीय औसत के बराबर है। कोरोना के नए प्रकरणों की तुलना में हमारी रिकवरी रेट निरंतर बढ़ता है, जिससे कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट आ रही है।

अब जिन जिलों में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट अधिक है, वहां पर विशेष ध्यान दिया जाने की जरूरत है। कोरोना कर्फ्यू को और प्रभावी बनाए। घर-घर गहन सर्वे कर एक-एक मरीज की पहचान कर उपचार करें। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान शिवराज ने यह निर्देश दिए।

प्रभारी अधिकारी जिलों में जाकर व्यवस्थाएं देखें
कोरोना नियंत्रण के लिए बनाए गए प्रभारी अधिकारी अपने-अपने जिलों का दौरा करें। वहां की सभी व्यवस्थाएं देखें। कोरोना के संक्रमण को सख्ती से रोकें और इलाज की उत्तम व्यवस्था सुनिश्चित करें। लोगों के सहयोग के साथ इस बीमारी को रोकने के प्रयास करें।

बाहर से आए पुलिस बल का टेस्ट होगा
शिवराज ने कहा कि बंगाल, तमिलनाडु समेत कई जगहों पर अभी चुनाव संपन्न हुए हैं। इनमें मध्यप्रदेश पुलिस के जवान भी तैनात किए गए थे। अब वे वहां से लौट रहे हैं। उन सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए। बीमार होने वाले सभी के उचित इलाज की व्यवस्था की जाए।

सक्रिय मरीजों की संख्या 85 हजार 750

शिवराज ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 85 हजार 750 है। 3 मई की स्थिति में प्रदेश में 12 हजार 72 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं। वहीं 13 हजार 408 मरीज स्वस्थ हुए। प्रदेश की रिकवरी रेट 85% हो गया है। मृत्यु दर 1% है।

टीकमगढ़ एवं शिवपुरी में सर्वाधिक पॉजिटिविटी रेट (साप्ताहिक)

प्रदेश के टीकमगढ़ एवं शिवपुरी जिलों में सर्वाधिक पॉजिटिविटी रेट क्रमशः 45% एवं 39% है। इसी प्रकार सिंगरौली में 33%, दतिया में 33%, निवाड़ी में 31%, सीधी में 30%, अनूपपुर में 29%, ग्वालियर में 29%, नरसिंहपुर में 28%, कटनी में 28%, सीहोर में 27%, भोपाल में 26%, बालाघाट में 26%, तथा बैतूल में 26% पॉजिटिविटी रेट है। इन सभी जिलों में विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश मुख्यमंत्री चौहान ने दिए।

बुरहानपुर एवं छिंदवाड़ा में सबसे कम पॉजिटिविटी रेट

बुरहानपुर एवं छिंदवाड़ा जिलों में सबसे कम पॉजिटिविटी रेट 3% तथा 5% है। खंडवा में 6%, भिंड में 9% तथा अशोक नगर में 10% पॉजिटिविटी रेट है।

16 जिलों में 200 या इससे अधिक नए प्रकरण

प्रदेश के 16 जिलों में सोमवार को आई रिपोर्ट में 200 से अधिक कोरोना के नए प्रकरण आए हैं। इनमें से इंदौर में 1787, भोपाल में 1669, ग्वालियर में 910, जबलपुर में 739, रतलाम में 345, रीवा में 339, सतना में 272, शिवपुरी में 252, धार में 245, मंदसौर में 241, सिंगरौली में 240, उज्जैन में 233, सागर में 230, सीधी में 216, मुरैना में 209, निवाड़ी में 204 कोरोना के नए प्रकरण आए हैं।

comments