Friday, May 14

शिवराज सरकार का बड़ा फैसला:आठवीं तक के प्राइवेट स्कूल 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे; सरकारी और अनुदान प्राप्त स्कूलों में 13 जून तक गर्मी की छुट्‌टी घोषित

स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी किए तीन आदेश, सरकारी- प्राइवेट सभी हॉस्टल बंद किए
प्रदेश में कक्षा 8वीं तक के शासकीय एवं अनुदान प्राप्त समस्त स्कूलों के लिए 15 अप्रैल से 13 जून 2021 तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया गया है। हालांकि, प्राइवेट स्कूलों में 8वीं तक के स्कूलों को 30 अप्रैल 2021 तक बंद रहेंगे। इसके अलावा सभी सरकारी और प्राइवेट हॉस्टल तत्काल प्रभाव से बंद कर दिए गए हैं।
स्कूल शिक्षा विभाग ने प्राइमरी व मिडिल स्कलों के संबंध में मंगलवार को देर शाम तीन आदेश जारी किए हैं। पहले आदेश में कहा गया है कि कक्षा 8वीं तक के सभी शासकीय एवं अनुदान प्राप्त स्कूलों में 15 अप्रैल से 13 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित किया जाता है। लेकिन शिक्षकों को 9 जून तक अवकाश इस शर्त पर दिया गया है कि वे बोर्ड परीक्षाएं पूर्ण नहीं होने तक बिना अनुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।
विभाग ने दूसरा आदेश प्राइवेट स्कूलों के लिए जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के हालात को देखते हुए प्रदेश के सभी प्राइवेट स्कूलों में कक्षा 1 से 8वीं तक की क्लास 30 अप्रैल 2021 तक बंद रहेंगी। इन कक्षाओं का ऑनलाइन शिक्षण कार्य जारी रह सकेगा।

इसी तरह तीसरा आदेश हॉस्टल के संबंध में है। जिसमें कहा गया है कि कोरोना संक्रमण की लगातार हो रही वृद्धि के कारण कई जिलों में कोरोना कर्फ्यू की स्थिति है। इसके मद्देनजर सभी सरकारी और प्राइवेट हॉस्टल तत्काल प्रभाव से बंद कर दिए गए हैं।

आदेश में स्पष्ट किया गया है कि बोर्ड की परीक्षाएं एमपी बोर्ड, सीबीएसई और आईसीएसई के निर्देशों के अनुसार होगी। इसी तरह सरकारी स्कूलों में 10वीं व 12वीं के हॉस्टल के स्टूडेंट्स प्री-बोर्ड परीक्षा की आंसर शीट अपने निवास के निकटतम स्कूल में जमा कर सकेंगे।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा इस संबंध सभी जिलों के कलेक्टर, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला परियोजना समन्वयक एवं प्राचार्य को दिशा निर्देश जारी किए गए है। कक्षा पहली से आठवीं तक की शालाओं में कार्यरत सभी शासकीय शिक्षक ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान बोर्ड परीक्षाओं के पूर्ण होने तक मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे। बोर्ड परीक्षा के दौरान पर्यवेक्षण या अन्य शासकीय कार्य के लिए ड्यूटी लगाए जाने पर आवश्यक रूप से उपस्थित होंगे। जारी निर्देशों में स्पष्ट किया गया है कि बोर्ड परीक्षाएं संबंधित बोर्ड, माध्यमिक शिक्षा मंडल, सीबीएसई, आईसीएसई इत्यादि के निर्देश के अनुसार ही आयोजित होंगी।

comments