Thursday, February 25

वैक्सीनेशन के बाद बिगड़ी तबियत:चार नर्सों को दस्त और चक्कर आने की शिकायत, डॉक्टर ने कहा- घबराने की जरूरत नहीं

इलाज के बाद तीन को डिस्चार्ज किया गया, एक की निगरानी हो रही

पहले चरण में हुए कोरोना वैक्सीनेशन में कोवीशील्ड टीका लगवाने के बाद चार नर्सों ने दस्त, घबराहट और चक्कर आने की शिकायत की। चारों को जिला अस्पताल में भर्ती कर इलाज कराया गया। उनमें से तीन को प्राथमिक उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। एक को डॉक्टरों ने निगरानी में रखा है। इलाज कर रहे डॉक्टर ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं। आमतौर पर टीका लगने के बाद हल्का बुखार और घबराहट जैसी समस्या आम है।

गौरतलब है, 16 जनवरी को उज्जैन में पांच सेशन साइट्स पर कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत हुई। इसमें जिला अस्पताल के बीएससी नर्सिंग कॉलेज में भी नर्स रानी, चेतना, महिमा और सुमन को टीका लगाया गया। इसके बाद ऑब्जर्वेशन पीरियड में कोई दुष्प्रभाव नहीं हुआ।

शनिवार रात चरक हॉस्पिटल में ड्यूटी के दौरान नर्स रानी व महिमा और जिला अस्पताल में तैनात चेतना और सुमन ने तबियत खराब होने की शिकायत की। चारों को रात में ही जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। नर्स महिमा ने बताया, उसे दोपहर करीब 12 बजे वैक्सीन लगी। करीब दो घंटे बाद तेज फीवर आया। चक्कर भी आने लगे। पेट में दर्द होने लगा। रात नौ बजे एडमिट हो गई। इंजेक्शन लगा। देर रात तकलीफ बढ़ गई थी। नर्स चेतना ने बताया, टीका लगने के बाद रात में ड्यूटी के दौरान बुखार, चक्कर आए, सिर में भारीपन, आंखों में जलन होने लगी। उसके बाद जिला अस्पताल में भर्ती हो गई।

घबराने की जरूरत नहीं, वैक्सीन से परेशानी नहीं

नर्सों का इलाज कर रहे डॉ. अजय निगम ने बताया, नर्सों को जो भी परेशानी आई, वह वैक्सीन के कारण नहीं हुई। टीका लगाने के बाद आराम करना चाहिए था, जबकि वे ड्यूटी करने लगीं। नर्सों की जांच की गई। रिपोर्ट नॉर्मल आई है, इसलिए घबराने की जरूरत नहीं। रानी को छोड़कर अन्य तीनों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। रानी को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। उन्होंने बताया कि रानी को चक्कर की शिकायत पहले भी थी।

कोविड-19 के लिटरेचर में लिखा है, अन्य टीकों की तरह इसमें भी लक्षण हैं

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. केसी परमार ने बताया, कोविड-19 के लिटरेचर में लिखा है, अन्य टीकों के साथ आमतौर पर होता है कि जैसे हल्का बुखार, जहां टीका लगा है, उस स्थान पर दर्द व सूजन और अस्वस्थता महसूस होना, यह सब कोविड वैक्सीनेशन के बाद भी हो सकता है। ये लक्षण टीके लगने के 2-3 दिनों के अंदर ठीक हो जाते हैं। आवश्यकता पड़ने पर पैरासिटामॉल की गोली 4 घंटे के अंतराल से दो खुराक ले सकते हैं। दो दिन बाद भी लक्षण बना रहता है, तो डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं

comments