Thursday, February 25

भोपाल के 3 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू:जमीन विवाद केस में जीत के बाद बाउंड्री वॉल बनवा रहा RSS, तीन कॉलोनियां छावनी बनीं

  • कर्फ्यू रविवार सुबह 9 बजे से अगले आदेश तक लागू, विवाद की आशंका को देखते हुए ऐहतियातन फैसला
  • जिस जमीन पर कार्रवाई चल रही है, आरएसएस का संभागीय कार्यालय उसी के पास स्थित है

पुराने भोपाल इलाके में जमीन विवाद मामले को लेकर रविवार को तीन थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया। मामला कबाड़खाना इलाके में एक जमीन पर बाउंड्री निर्माण से जुड़ा है। हनुमानगंज के TI महेंद्र सिंह ने बताया कि इलाके में 30 हजार वर्गफीट जमीन पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) बाउंड्री वॉल बनवा रहा है।

इस इलाके में संघ का संभागीय कार्यालय केशव नीडम स्थित है और इसी के पास की जमीन से जुड़ा मामला है। कुछ लोगों ने जमीन को वक्फ बोर्ड का बताया था। इसके बाद मामला कोर्ट में चला गया। संघ के पक्ष में फैसला आने के बाद वहां बाउंड्री वॉल बनवाई जा रही है। विवाद की आशंका को देखते हुए तीन थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया।

तीन थानों का इलाका छावनी बना
विवाद की आशंका को देखते हुए राजदेव कॉलोनी, सिंधी कॉलोनी और कबाड़खाना इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील (सील) कर दिया गया है। जिन तीन थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू घोषित किया गया है, वहां के दूसरे इलाकों में मामूली ढील दी गई है। लोगों की आवाजाही जारी है।

सूत्रों के अनुसार खुली जमीन को कवर्ड किया जा रहा है। साथ ही एक स्थान विशेष पर जाने के लिए अलग रास्ता भी तैयार किया जा रहा है।


  • भारी पुलिस बल तैनात
    बाउंड्री निर्माण को लेकर स्थानीय लोगों और विशेष समुदाय के लोगों द्वारा विरोध करने की आशंका है। इससे शहर की शांति और कानून व्यवस्था भंग होने का खतरा है। इसे देखते हुए ऐहतियातन कलेक्टर अविनाश लवानिया ने धारा-144 के तहत रविवार सुबह 9 बजे से तीन थाना क्षेत्रों हनुमानगंज, टीला जमालपुरा और गौतम नगर में कर्फ्यू लगा दिया। इसके बाद इतवारा, सोमवारा, बुधवारा, भारत टॉकीज चौराहा पर पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर आवागमन बंद कर दिया। तीनों थाना क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

यह आदेश जारी

  • मेडिकल जरूरत को छोड़कर घर से बाहर नहीं निकल सकेंगे।
  • व्यावसायिक संस्थान दुकानें, उद्योग बंद रहेंगे।
  • केवल हॉस्पिटल्स, मेडिकल दुकानें खुली रहेंगी।
  • आदेश शासकीय सेवक, पुलिसकर्मी, सशस्त्र बल पर लागू नहीं होगा।
  • आदेश शैक्षणिक या प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों पर भी लागू नहीं होगा।
  • प्रवेश पत्र आईडी कार्ड दिखाने पर आवागमन कर सकेंगे।
  • आदेश परीक्षाओं की ड्यूटी में लगे कर्मचारियों पर भी लागू नहीं होगा। आईडी कार्ड दिखाने पर अनुमति रहेगी।
  • कर्फ्यू रविवार सुबह 9:00 बजे से आगामी आदेश तक लागू रहेगा।

यह है मामला
पुराने भोपाल के कबाड़खाना क्षेत्र में करीब 30 हजार वर्गफीट जमीन है। पहले यह जमीन राजदेव ट्रस्ट की थी। करीब 60 साल पहले इस पर विवाद शुरू हआ। मामला कोर्ट में पहुंचा। पहले पक्षकार शेख इस्माइल थे। उनके बाद इसमें सिंधी कॉलोनी के विशंभर दास दूसरे पक्षकार के रूप में जमीन पर दावा जताया। बाद में सुलेमान नाम के शख्स ने इसी मामले में कोर्ट में याचिका दायर की। इसी दौरान जमीन आरएसएस के संभागीय कार्यालय ‘केशव नीडम’ के नाम हो गई। कोर्ट ने 7 दिन पहले केशव नीडम के पक्ष में फैसला सुनाया। इसी फैसले के बाद RSS रविवार को जमीन पर बाउंड्री वॉल बना रहा है।

comments