Wednesday, January 20

उम्मीदों से भरा 2021:रोजगार, हेल्थ, पर्यटन, इन्फ्रास्ट्रक्चर; अब सब पॉजिटिव; इंडस्ट्री और आईटी सेक्टर से ही 17 हजार को मिलेगा रोजगार

कोरोना से फैली नकारात्मक ऊर्जा को सकारात्मकता में बदलने वाला साल है 2021… कोरोना ने जितना हमें पीछे किया, जो कुछ हमसे छीना, उससे कई गुना लौटाने वाला साल है 2021… नया साल हर क्षेत्र में विकास के द्वार खोलेगा… उद्योग और आईटी सेक्टर ही 17 हजार से ज्यादा नौकरियां देंगे… शहर का व्यापारी वर्ग अब यहीं से देश और दुनिया के किसी भी कोने में कार्गो से अपने उत्पाद भेज सकेगा… बीआरटीएस पर एलिवेटेड की संभावना तो रिंग रोड पर पीपल्याहाना के बाद बंगाली चौराहे पर फ्लायओवर लाखों लोगों के सफर को आसान बनाएगा… ऐतिहासिक राजबाड़ा अपने भव्य स्वरूप में लौटेगा तो शिक्षा, इन्फ्रास्ट्रक्चर, स्वास्थ्य, पर्यटन, खान-पान हर क्षेत्र में नववर्ष कुछ न कुछ नया देने वाला है…

उद्योग-आईटी से बरसेंगी नौकरियां…
पी थमपुर में लैंड पूल स्कीम में 1500 एकड़ जमीन मिलेगी। यहां नया औद्योगिक क्षेत्र विकसित होने से आने वाले समय में सौ से ज्यादा इंडस्ट्री आएगी। दस हजार से ज्यादा लोगों को सीधे रोजगार मिलेगा। यह देश की पहली लैंडपूल स्कीम है, जिसमें किसानों को मुआवजे के बदले नकद और जमीन दोनों मिल रही है। पहले चरण में किसान 1100 एकड़ से ज्यादा जमीन सौंपेंगे और बदले में 95 करोड़ का मुआवजा 121 किसानों को मिलेगा। 400 एकड़ सरकारी जमीन है। किसानों को विकसित प्लॉट मिलेंगे। वे अपने हिसाब से किसी को भी बेच सकेंगे। इस स्कीम के दायरे में 15 से 20 हजार एकड़ जमीन प्रस्तावित है। इससे पीथमपुर में 40 साल तक जमीन की समस्या नहीं होगी। पीथमपुर में औसतन अभी 500 एकड़ जमीन प्रति साल उद्योगों को आवंटित होती है।

मोहना में नया आयुर्वेद क्लस्टर विकसित होगा : यहां पर सौ से ज्यादा यूनिट स्थापित होगी, जहां पर रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली आयुर्वेदिक दवा आदि का उत्पादन होगा।
रंगवासा में प्रदेश के पहले कन्फेक्शनरी क्लस्टर में प्लांट लगना शुरू होंगे। चार हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा। यह क्लस्टर 50 एकड़ में विकसित होगा।

वाट्सएप पर मिलेंगे आय व अन्य प्रमाण पत्र
आय व अन्य प्रमाण पत्र वाट्सएप पर मिल सकेंगे। सीएम ने इसकी घोषणा 25 दिसंबर को की थी। इसमें 181 नंबर पर आधार कार्ड की जानकारी देने पर यह सुविधा मिलेगी। अब अलग-अलग तहसील क्षेत्रों में वहीं पर तहसील कार्यालय खोले जाएंगे, ताकि लोगों को कलेक्टोरेट तक नहीं जाना पड़े।

30 से ज्यादा टेक्नोलॉजी कंपनियां यहां एकसाथ काम कर सकेंगी
क्रिस्टल आईटी पार्क परिसर में तीसरे आईटी पार्क का काम शुरू होगा, जो पहला हाईराइज आईटी पार्क रहेगा। तीसरे आईटी पार्क में भी 30 से अधिक कंपनियां काम करेंगी और इससे ढाई से तीन हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। इस तरह एक ही परिसर में आईटी सेक्टर के करीब आठ हजार लोग एक साथ काम कर सकेंगे।

इंटरनेशनल कार्गो से दुनिया में कहीं भी भेज सकेंगे सामान
इं दौर से इंटरनेशनल कार्गो फ्लाइट की शुरुआत नए साल में होगी। इसके बाद कंपनियां व उद्योगपति अपने प्रोडक्ट दुनिया में कहीं भी भेज सकेंगे। जनवरी से कार्गो की शुरुआत हो जाएगी। अभी वाया दिल्ली-मुंबई कार्गो की आवाजाही होती है। इंदौर से सीधी कार्गो फ्लाइट शुरू होने के बाद 20 से 36 घंटे तक का समय बचेगा। कस्टम क्लीयर यहीं हो सकेगा।

नई एयरलाइंस फ्लाय बिग की सेवाएं होंगी शुरू
फ्लाय बिग एयरलाइंस 3 जनवरी से पहली फ्लाइट अहमदाबाद के लिए शुरू करेगी। यह सप्ताह में तीन दिन चलेगी। एयरलाइंस 13 जनवरी से रायपुर के लिए भी फ्लाइट संचालित करेगी। फ्लाय बिग पहली एयरलाइंस है, जो देश में पहली बार इंदौर से फ्लाइट का संचालन शुरू कर रही है।

पहली बार सरकारी अस्पताल में हार्ट ट्रांसप्लांट हो सकेंगे
सु पर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल में आधुनिक ऑपरेशन थिएटर, लैब के साथ जटिल ऑपरेशन किए जाएंगे। एक फ्लोर पर पूरी तरह से अंगदान की प्रक्रिया होगी। हार्ट, लिवर ट्रांसप्लांट होंगे।
402 बेड वाले इस अस्पताल को सेंट्रल इंडिया का सर्वसुविधायुक्त सरकारी अस्पताल बनाने का दावा है। अलग-अलग एक्सपर्ट्स डॉक्टर यहां पर 24 घंटे मौजूद रहेंगे।

एमवायएच में 1.50 करोड़ रुपए से स्किल लैब बनेगी
एमवाय में 1.50 करोड़ से स्किल लैब नए साल में शुरू होगी। यहां डॉक्टरों, छात्रों और स्टाफ को सीपीआर, इंजेक्शन, डिलीवरी सहित अन्य कई महत्वपूर्ण प्रोसिजर सिखाए जाएंगे। वहीं एमजीएम मेडिकल कॉलेज में इस साल से 250 एमबीबीएस सीटों पर प्रवेश होंगे।

पीपल्याहाना फ्लायओवर होगा शुरू, बंगाली का काम भी चलेगा
पी पल्याहाना फ्लायओवर तैयार है। नए साल में इस पर से ट्रैफिक भी शुरू हो जाएगा। पीडब्ल्यूडी द्वारा बंगाली चौराहे के फ्लायओवर का काम भी शुरू कर दिया जाएगा। वर्तमान में इसकी दोनों भुजाएं तैयार हो चुकी हैं। रिंग रोड पर इन दोनों फ्लायओवर के बनने से तिलकनगर, बंगाली चौराहा, कनाड़िया, खजराना चौराहा सहित 10 कॉलोनी को फायदा होगा।

बीआरटीएस पर एलिवेटेड कॉरिडोर की भी संभावना
बीआरटीएस पर एलिवेटेड कॉरिडोर को लेकर सुप्रीम कोर्ट से निर्णय हो गया है। नए साल में संभवत: इस पर भी जमीनी काम शुरू हो सकता है। यह एलिवेटेड कॉरिडोर प्रेस कॉम्प्लेक्स से राजीव गांधी प्रतिमा चौराहे तक बनाया जाएगा। इससे बीआरटीएस की कॉमन लेन में ट्रैफिक जाम नहीं होगा।

यह सब है आपके लिए…
पिलर डलना शुरू, 17 किलोमीटर का ट्रैक सबसे पहले होगा तैयार

इं दौर में मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट की रफ्तार इसी साल बढ़ेगी। कंपनी ने पिलर डालने का काम तेजी से शुरू कर दिया है। टारगेट सबसे पहले 17 किलोमीटर का ट्रैक तैयार करना है। पहले चरण में कुमेड़ी एमआर-10 टोल से चंद्रगुप्त चौराहे तक 43 पिलर तैयार होंगे। वहीं विजय नगर चौराहे से मुमताज बाग रोबोट चौराहे तक 46 पिलर खड़े होंगे। इंजीनियरों का दावा है कि एक महीने में 40 पिलर खड़े हो जाएंगे।

सिर्फ एलिवेशन का काम ही बचा, पांच माह में यह भी हो जाएगा पूरा
रा जबाड़ा का जीर्णोद्धार कर रही स्मार्ट सिटी कंपनी ने चेन्नई आईआईटी के डॉ. अरुण मेनन की रिपोर्ट पर काम शुरू कर दिया है। फिलहाल एलिवेशन का काम बचा है। इसमें लकड़ी के जोड़, पिलर के सेगमेंट सहित वुडन स्ट्रक्चर की हर बारीकी को ध्यान में रखते हुए कार्य किया जा रहा है। इसे पूरा होने में पांच महीने लगेंगे। इसके बाद राजबाड़ा के आगे से लोहे का जाल हटा दिया जाएगा और राजबाड़ा फिर भव्य स्वरूप में नजर आएगा।

कजलीगढ़, सीतलामाता और तिंछा फॉल पर सेल्फी, व्यू पॉइंट बनाएंगे
शहर के आसपास के पर्यटन स्थल कजलीगढ़, तिंछाफॉल और सीतलामाता फॉल सहित जितने भी झरने हैं, उन्हें टूरिज्म क्लस्टर बनाएंगे। कजलीगढ़ में व्यू पॉइंट, सेल्फी पॉइंट, हट, रैलिंग लगाई जाएगी, ताकि लोग सुरक्षित तरीके से करीब जाकर झरना देख सकें। एसडीओ एके श्रीवास्तव के मुताबिक रेलवे स्टेेशन, एयरपोर्ट, बस स्टेशन, होटल्स में इन प्राकृतिक स्थलों को एक के बाद एक देखने के लिए रूट का प्रचार किया जाएगा।

एक लाख स्मार्ट मीटर और लगेंगे शहर में, सटीक बिलिंग हो सकेगी
बिजली कंपनी एक लाख स्मार्ट मीटर और लगाएगी। स्मार्ट मीटर यूनिट की गणना सटीक तौर पर करेंगे। अधीक्षण यंत्री कामेश श्रीवास्तव के मुताबिक जहां भी यह मीटर लगे हैं, वहां ज्यादा बिल की समस्या खत्म हो गई है। इस मीटर की रीडिंग लेने की आवश्यकता नहीं होती। स्वतः रीडिंग होकर बिल पर छप जाती है। ये मीटर जनवरी से लगना शुरू होंगे। तीन माह में इन्हें लगा दिया जाएगा। ये मीटर नि:शुल्क लगाए जाएंगे।

तक्षशिला की नई लाइब्रेरी में तीन गुना छात्र पढ़ सकेंगे एक साथ
देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के खंडवा रोड स्थित तक्षशिला परिसर में पुरानी सेंट्रल लाइब्रेरी को तोड़कर नई लाइब्रेरी बनाई जाएगी। काम अप्रैल में शुरू कर दिसंबर तक पूरा करने का टारगेट है। मौजूदा लाइब्रेरी में एक बार में 100 छात्र बैठ पाते हैं। नई में एक साथ 300 छात्र बैठ सकेंगे। कोर्स के मुताबिक अलग-अलग ब्लॉक बनेंगे। यानी कॉमर्स के छात्र एक ब्लॉक में तो साइंस के छात्र अलग ब्लॉक में बैठ सकेंगे।

comments