Wednesday, September 30

क्या आम अपराधी से भी यही सलूक होता -सुशांत सिंह मौत

सुशांत सिंह की मौत को दो माह से ऊपर हो गये पर आज तक देश को ये पता नहीं चल सका की आखिर सुशांत सिंह के साथ हुआ कया था। मौत से लेकर आज तक सिर्फ़ मीडिया ही सच निकाल निकालकर ला रही है । इसे दुर्भाग्य ही कहेंगे की एक ओर तो पुलिस साधारण आमआदमी के मामले मे थर्ड डिग्री उपयोग करके दूध का दूध ओर पानी का पानी कर वाहवाही लूटती है ।पर सुशांत के मामले में अलग ही मापदंड अपनाया जा रहा है। देश के लोग बैचेन है सच से पर्दा कव उठेगा पर जांच है की खत्म ही नहीं होती ।

यह सही है कि सुशांत का मामला साधारण नहीं है ।क्योंकि जिस तरह की बातें आ रही है उसमें पहले ही दिन से संशय पैदा हो रहा है ।पुलिस का रबैया भी पूरी मामले में संदेह पैदा करता रहा है । सुशांत के घर का ताला खोलने से लेकर बॉडी उतरने ओर एंबुलेंस से लेकर पोस्टमार्टम तक सभी जगह गैरजिम्मेदाराना रवैया दिखाई दिया है। पुलिस कि कार्यवाही से संतुष्ट न होने पर सीबीआई की मांग की जा रही थी ।

सीबीआई को आये एक हफ्ते से ऊपर हो गया पर अभी ठोस परिणाम तक कुछ दिखाई नहीं दे रहा है ।जिन लोगों पर संदेह है उनके साथ बगैरसख्ती किये कुछ निकलने बाला नहीं है ऐसा लग रहा है ।दिन पर दिन गुजर रहे है देश के लोगों में बैचेनी है आखिर कब आयेगा सच ओर कव मिलेगा सुशांत सिंह को न्याय।

comments