Wednesday, September 30

बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली ने कहा- वीवो से टाइटल स्पॉन्सरशिप डील सस्पेंड होना छोटा सा झटका

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरव गांगुली का मानना है कि चाइनीज मोबाइल कंपनी से आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप डील सस्पेंड होना मामूली झटका है। इससे बीसीसीआई की आर्थिक सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। गांगुली ने एक वेबिनार में यह बात कही।

बीसीसीआई ने बीते गुरुवार को वीवो से इस साल के लिए आईपीएल के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप कॉन्ट्रैक्ट तोड़ने का फैसला किया था। भारत-चीन के बीच पैदा हुए सीमा विवाद के बाद से ही देश भर में चाइनीज कंपनियों के बहिष्कार की मांग हो रही थी। भारतीय बोर्ड पर भी वीवो से डील तोड़ने का दबाव था।

बोर्ड की बुनियाद बहुत मजबूत: गांगुली

गांगुली ने कहा कि बीसीसीआई की बुनियाद बहुत मजबूत है। खिलाड़ियों और एडमिनिस्ट्रेटर्स ने बीते कुछ सालों में इस खेल को इतना मजबूत बनाया कि बीसीसीआई इस तरह के मामूली झटकों को आसानी से संभाल सकती है। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई के पास ऐसी स्थितियों से निपटने के लिए पहले से ही प्लान-बी होता है। आप पहले से ही स्थिति को भांपकर अपने सारे विकल्प खुले रखते हैं। समझदार लोग, ब्रांड और बड़ी कॉरपोरेट कंपनियां ऐसा करती हैं।

बोर्ड किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार’
बोर्ड अध्यक्ष ने आगे कहा कि ऐसा करने का एक ही तरीका है कि आप समय के साथ प्रोफेशनली मजबूत होते जाएं। बड़ी चीजें न रातों-रात होती हैं और न ही जाती हैं। भविष्य को देखकर की गई लंबी तैयारी ही आपको इस तरह के नुकसान और सफलता के लिए तैयार करती है।

comments