Monday, September 21

अयोध्या जी मे मिले प्राचीन अवशेष।

अयोध्या मे मंदिर स्थल पर समतलीकरण के कार्य के दौरान प्रचीन अवशेष निकलने से संत समाज मे खुशी की लहर है ,उनका कहना है जो विधर्मी कल तक श्री राम मंदिर पर प्रश्न उठाते थे उनके लिए ये एक ओर प्रमाण है। संत समाज पहले भी इस तरह के दावे करता रहा है ।

आपको ज्ञात होगा की श्री राम जन्म भूमि का जव से फैसला आया है तव से वहां मंदिर निर्माण की प्रक्रिया शुरु हुई है धीरे धीरे वहां काम चल रहा है चूंकि न्यायालय से मामला निपटने के बाद से पूरा हिंदू समाज चाहता है की मंदिर का निर्माण अव शीघ्रता से शुरू हो ।

हालांकि भगवान को अस्थाई टेंट से हटा कर एक अलग स्थान पर विराजमान कर दिया है ओर नित्य आरती हौ रही है। ओर मंदिर परिसर मे आगे की गतिविधि की रुपरेखा ट्रस्ट के माध्यम से संचालित होगी।पर कोरोना संक्रमण के चलते कोई ठोस रपरेखा सामने नहीं आ पा रही है। पर आज कि खबरों से यह जरूरी स्पष्ट हो गया की वहां मंदिर था ओर उनके अवशेष इस बात की तस्दीक कर रहे है।

comments