Sunday, September 27

Day: May 11, 2020

रोज 100 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने की योजना; 24 घंटे में 1500 से ज्यादा लोग स्वस्थ, 11 दिनों में रिकवरी रेट 6% बढ़कर 31.5% हुआ
देश विदेश, भोपाल संभाग, राजधानी समाचार, राज्य समाचार

रोज 100 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने की योजना; 24 घंटे में 1500 से ज्यादा लोग स्वस्थ, 11 दिनों में रिकवरी रेट 6% बढ़कर 31.5% हुआ

नई दिल्ली. गृह मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि अभी तक 468 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से देश के विभिन्न जगहों पर फंसे 5 लाख प्रवासी मजदूरों, छात्रों, सैलानियों को उनके घर तक पहुंचाया गया है। मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्यसलिला श्रीवास्तव ने कहा कि अब अगले 2 हफ्ते तक रोजाना कम से कम 100 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी है। इसके लिए रणनीति तैयार की जा चुकी है। पैदल अपने घरों के लिए निकले लोगों को भी राज्य सरकारें बसों से उनके घर तक पहुंचाएंगी।श्रीवास्तव ने बताया कि सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्यों के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ सोमवार को बैठक हुई है। इसमें सभी को निर्देश दिया गया है कि वह प्रवासियों मजदूरों को हर संभव सहायता प्रदान करें। उन्हें रेल की पटरियों का प्रयोग करने से रोकें। अगर ज्यादा संख्या में मजदूर पैदल चलते दिखें तो विशेष बस का प्रबंध कराकर उनके घर तक पहुंचाए...
कल से रेल सफर शुरू / हावड़ा-दिल्ली ट्रेन के फर्स्ट एसी और थर्ड एसी के सभी टिकट 10 मिनट में बिक गए; मुंबई-दिल्ली ट्रेन में भी 18 मई तक टिकट नहीं
देश विदेश, राजधानी समाचार, राज्य समाचार

कल से रेल सफर शुरू / हावड़ा-दिल्ली ट्रेन के फर्स्ट एसी और थर्ड एसी के सभी टिकट 10 मिनट में बिक गए; मुंबई-दिल्ली ट्रेन में भी 18 मई तक टिकट नहीं

नई दिल्ली. आईआरसीटीसी ने सोमवार शाम 6 बजे से स्पेशल ट्रेनों के टिकटों की बुकिंग शुरू की। इस दौरान हावड़ा-दिल्ली ट्रेन के फर्स्ट एसी और थर्ड एसी के टिकट सिर्फ 10 मिनट में बिक गए। दरअसल, पहले यह बुकिंग शाम 4 बजे से शुरू होनी थी, मगर लोड बढ़ने से साइट ही क्रैश हो गई। इस वजह से 2 घंटे की देरी से बुकिंग शुरू हुई। 1) हावड़ा-नई दिल्लीइस रूट की स्पेशल ट्रेन का 12 मई का रिजर्वेशन कुछ ही मिनटों में फुल हो गया, जबकि 13 मई का रिजर्वेशन 20 मिनट में फुल हो गया। इस रूट पर थर्ड एसी का किराया 1900 रुपए, सेकंड एसी का 2700 रुपए और फर्स्ट क्लास का 4595 रुपए रखा गया है। 2) राजेंद्र नगर-नई दिल्ली रूटआईआरसीटीसी की वेबसाइट पर राजेंद्र नगर लिखने पर ट्रेन सर्च नहीं हुई, जबकि पटना-नई दिल्ली सिलेक्ट करने पर बुकिंग का ऑप्शन दिखा। दरअसल, सर्च करने पर यूजर को पटना डालना था और ट्रेन का नाम राजेंद्र नगर-नई दिल्...
भूषण कुमार के नए सांग ‘भीगी भीगी’ से नेहा कक्कर और टोनी कक्कड़ वापस आ रहे है !
Uncategorized, कहानी, देश विदेश, विविध

भूषण कुमार के नए सांग ‘भीगी भीगी’ से नेहा कक्कर और टोनी कक्कड़ वापस आ रहे है !

YouTube पर 800 प्लस मिलियन से अधिक व्यूज पार कर चुके, 'ओ हमसफ़र’ की शानदार सफलता के बाद, नेहा कक्कड़ और टोनी कक्कड़ भूषण कुमार टी-सीरीज़ द्वारा प्रस्तुत 'भीगी भीगी’ के साथ वापस आए हैं। नेहा कक्कड़ और टोनी कक्कड़ हमेशा टी-सीरीज़ के साथ एक स्पेशल बांड शेयर करते है, नेहा ने टी-सीरीज़ 'यारियां' के 'सनी सनी' से प्रसिद्धि पाई और जब से उन्होंने इस म्यूजिक सम्राट के लिए कई गाने गाए हैं जिनमें दिव्या खोसला कुमार अभिनीत 'याद पिया की आने लगी’ भी शामिल हैं. टोनी कक्कर ने भी टी-सीरीज़ के बैनर तले अपने कुछ सबसे बड़े हिट सांग्स दिए है जिनमे कोका कोला और धीमे-धीमे शामिल हैं। दिलचस्प बात यह है कि कोका कोला और धीमे-धीमे दोनों ही वार्षिक IFPI ग्लोबल म्यूज़िक रिपोर्ट 2019 द्वारा जारी शीर्ष 10 गीतों की सूची में हैं। कोका कोला फिल्म लुका छुपी का एक सांग है, जिसे शीर्ष एल्बम के रूप में लिस्टेड किया गया ह...
बाबा हम शर्मिंदा है,तेरे कातिल जिंदा है।
Uncategorized, राजधानी समाचार, राज्य समाचार, संपादकीय, हादसा

बाबा हम शर्मिंदा है,तेरे कातिल जिंदा है।

महाराष्ट्र के पालघर की घटना को चाहकर भी नहीं भूल पा रहे है,बैसे तो भूलना भी नहीं चाहिए ,पर इस देश की हवा ऐसी है जिसमें बहुत सी महत्वपूर्ण घटनाएं भुला दी जाती है ,जैसे लाखों हिन्दुओं को कश्मीर से रातोंरात निकाल दिया ओर देश चुपचाप देखता रहा ओर सिर्फ वही बचे जो पीढित थे आज भी कैम्पों मे रहने को मजबूर है ।किसी को कहां फर्क पडा । आज पालघर की घटना जो 16 अप्रैल को हुई थी तव से लेकर आजतक संत समाज निरन्तर मांग कर रहा है की उस घटना की सीबीआई जांच कराई जाये पर कहा कोई सुनने बाला है ,आज पूरा देश लॉकडाउन का वहाना लेकर शांत है सिर्फ अर्नव गोस्वामी ओर एक दो न्यूज चैनल इस समाचार को महत्व दे रहज है वांकी सव मौन। जव सोशल मीडिया पर उन संतो के फोटो देखते है तो लगता है हम उन संतों के साथ न्याय नहीं कर पा रहे है क्योंकि उन संतों की हत्या का मास्टरमाइंड कोन है उस तक अभी पुलिस नहीं पहुंची है ओर यदि पं...