Monday, September 21

ट्रैन को कोचों को आइशोलेशन बार्ड के रूप इस्तेमाल कर सकती हैं भारत सरकार

नईदिल्ली | देश में तेजी से फ़ैल रहे कोरोना वायरस को रोकने के लिए भारत सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉक डॉन डाउन घोषित किया हैं, जिसके बाद भी देश में संक्रमित लोगो के संख्या लगातार बढ़ती जा रही हैं | जिससे अस्पतालों में संक्रमित लोगो को रखने के लिए जगह कम पड़ने लगी हैं ऐसे में रेलवे बड़ा कदम उठाने पर विचार कर रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बुधवार को हुई बैठक में रेलवे अधिकारियों ने रेल मंत्री और रेल बोर्ड चैयरमेन की मौजूदगी में हुई बैठक में ट्रेन के कोचों को कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए अस्थाई तौर पर आइशोलेशन बार्ड बनाने का प्रस्ताव दिया है जिस पर विचार किया जा रहा है। बता दे की भारतीय रेलवे रोजाना 13, 523 ट्रेनों का संचालन करता है, फिलहाल रेलवे ने 14 अप्रैल तक अपनी ट्रेन सेवा को स्थगित कर रखा है। बैठक के दौरान रेलवे के खाली पड़े कोचों को आइसोलेशन वार्ड के तौर पर इस्तेमाल करने के लिए यह प्रस्ताव दिया गया। डिवीजनल मैनेजर और सभी जोनों के मैनेजर्स की बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये हुई थी।

comments