Tuesday, September 29

सुप्रीम कोर्ट में फिर टली बागी विधायकों की सुनवाई

नईदिल्ली| कर्नाटक में चल रहे नाटक का अंत कल शाम को ख़त्म हो गया हैं. कांग्रेस और जेडीएस के गठबंधन के टूटते ही कुमारस्वामी ने मुख्यमंत्री पद से स्तीफा दे दिया हैं तो वही दूसरी और कर्नाटक के बागी विधायकों की ओर से दायर की गई याचिका पर आज भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई नहीं हो पाई. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा है कि आदेश मुकुल रोहतगी और अभिषेक मनु सिंघवी की मौजूदगी में ही सुनाएंगे. उन्होंने हमारा काफी समय लिया और उनको कोर्ट के सामने पेश होने दें. चीफ जस्टिस के इतना कहने के बाद ही सुनवाई गुरुवार तक के लिए टाल दी गई. मुकुल रोहतगी विधायकों के वकील हैं और अभिषेक मनु सिंघवी कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर रमेश कुमार का पक्ष कोर्ट में रख रहे हैं

इस महीने की शुरुआत में कांग्रेस और जेडीएस के 15 विधायकों ने पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद राज्य में कुमारस्वामी सरकार के लिए संकट पैदा हो गया था. वहीं मंगलवार को फ्लोर टेस्ट में सरकार बहुमत साबित नहीं कर पाने के कारण 14 महीनों में ही गिर गई. सरकार गिरने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि लालची लोगों को गठबंधन अपने रास्ते में सत्ता में पहुंचने के लिए रुकावट की तरह लगता था, वे लोग जीत गए जबकि लोकतंत्र और राज्य के लोग हार गए.

comments