प्रियंका गाँधी को पुलिस ने लिया हिरासत में

सोनभद्र| सोनभद्र में 17 जुलाई को जमीन विवाद में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी। इस नरसंहार के दौरान 28 लोग घायल भी हो गए थे। इस घटना ने पूरे प्रदेश को हिला दिया था। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को इस घटना में घायल हुए लोगों से वाराणसी के अस्पताल में मुलाकात की। इस दौरान डॉक्टरों से प्रियंका ने उनकी सेहत को लेकर चर्चा भी की। पीड़ित परिवार से मिलने के बाद प्रियंका गाँधी अपने काफिले के साथ सोनभद्र के लिए रवाना हुयी लेकिन लेकिन पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने उनके काफिले को नारायणपुर (मिर्जापुर) में रोक दिया। इसके बाद प्रियंका सड़क पर धरने पर बैठ गईं। उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ चार लोगों के साथ पीड़ित परिवारों से मिलना चाहती हूं। मुझे रोकने और गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को ऊपर से फोन आया है।

इसके बाद अधिकारी प्रियंका गांधी और कुछ कांग्रेस नेताओं को सरकारी गाड़ी में बैठाकर गेस्ट हाउस ले गए। पुलिस के आला अफसरों ने कहा है कि प्रियंका को गिरफ्तार नहीं किया गया। कानून व्यवस्था को देखते हुए सोनभद्र में धारा 144 लागू है। यहां के घोरावल इलाके में 17 जुलाई को जमीन विवाद में 10 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस मुख्य आरोपी ग्राम प्रधान यज्ञदत्त भोर्तिया समेत 27 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

comments