Tuesday, September 29

इंस्पेक्टर ने नहीं पहचाना धरने पर बैठे तेजप्रताप

281218बिहार/फुलवारीशरीफ। राजद के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप उस समय धरने पर बैठ गए जब उन्होंने एक पुलिस इंस्पेक्टर को फ़ोन किया और इंस्पेक्टर ने यह कह कर फ़ोन काट दिया की वो किसी तेजप्रताप को नहीं जानते दरअसल मामला बिहार के फुलवारीशरीफ का है जहां पर पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने जनता दरबार लगाया था, वहा पर एक महिला अपनी बहन की हत्या किए जाने की आशंका पर जीजा हरेंद्र कुमार और उसके परिवारवालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए थाने में आवेदन दिया था, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इस की जानकारी लेने के लिए जब तेजप्रताप ने फुलवारीशरीफ के इंस्पेक्टर के सरकारी मोबाइल नंबर पर कॉल किया और अपना परिचय दिया तो सामने से जवाब मिला, मैं किसी तेजप्रताप को नहीं जानता। उनकी पूरी बात सुने बिना ही इंस्पेक्टर ने कॉल डिस्कनेक्ट कर दी। फोन पर हुई बदसलूकी से आग बबूला तेजप्रताप फौरन थाने पहुंच गए और धरना दे दिया और इंस्पेक्टर को निलंबित किए जाने की मांग पर अड़ गए।

comments