Wednesday, September 30

चिन को भारत की मेंबरशिप के लिया मनाएंगे मोदी

modi-jinping-1-new_146562वियना. न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (एनएसजी) में भारत की मेंबरशिप को लेकर अमेरिका के पूरे सपोर्ट के बावजूद वियना प्लेनरी (मीटिंग) में कुछ हासिल नहीं हो पाया। अब ये मुद्दा 24 जून को एनएसजी की सिओल में होने वाली प्लेनरी (मीटिंग) में ही रखा जाएगा। इस बीच, भारत की दावेदारी का लगातार विरोध कर रहे चीन को मनाने का जिम्मा खुद नरेंद्र मोदी संभालेंगे। वे इसी महीने ताशकंद में होने वाली मीटिंग में चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग से मुलाकात कर सकते हैं।

– भारत की एनएसजी में एंट्री को लेकर चीन लगातार विरोध कर रहा है।
– चीन का कहना है कि भारत बिना नॉन-प्रोलिफिरेशन ट्रीटी (परमाणु अप्रसार संधि-NPT) पर साइन किए एनएसजी का मेंबर नहीं बन सकता।

comments