Wednesday, September 30

विश्व हिन्दी सम्मेलन की व्यापक तैयारियां की जा रही हैं –

dddddddddभोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को दोपहर में समीक्षा बैठक ली। इस दौरान उन्होंने राजधानी में होने वाले विश्व हिन्दू सम्मेलन की तैयारियों पर अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया।
चौहान ने अधिकारियों को सभी व्यवस्थाएं समय पर पूरा करने के लिए कहा है। विद्वानों का सम्मान और मध्यप्रदेश की खूबियां भी लोगों तक पहुंचाने के लिए कहा गया है।
बताया गया है कि विश्व स्तरीय सम्मेलन होने के दौरान पूरे भोपाल को हिन्दीमय कर दिया जाएगा। हिन्दी के प्रयोक का जनअभियान भी चलाने को कहा गया है। मेहमानों के आतिथ्य सत्कार में कोई कमी नहीं होने और झीलों की नगरी भोपाल को संवारने के लिए भी कहा गया है।
10 सितंबर से 12 सितंबर तक होने वाला आयोजन राजधानी के लाल परेड मैदान पर होगा, जिसमें विश्व भर से करीब 5000 लोग शामिल होंगे।

बारकोड वाले परिचय पत्र धारकों को ही मिलेगा प्रवेश

विश्व हिन्दी सम्मेलन में सुरक्षा की व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। ड्यूटी करने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के बारकोड वाले परिचय पत्र बनाए जाएंगे। अतिथियों को जो आमंत्रण पत्र भेजे जाएंगे उन पर भी बार कोड होगा। इसके साथ लोगों को भारत सरकार द्वारा जारी फोटोयुक्त पहचान पत्र रखना होगा।

——————————————————–

समय सीमा गुजरी, नहीं हो पाई 19 सड़कों की मरम्मत

शहर की जिन 19 सड़कों की मरम्मत और सौंदर्यीकरण होना था वह तय समय सीमा 31 अगस्त तक नहीं हो पाया है। कलेक्टर ने सोमवार को टाइम लिमिट की बैठक में जब निगम कमिश्नर से इस संबंध में जवाब मांगा तो उन्होंने काम प्रगति पर होने की बात कही। इस पर कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए सड़कों का काम जल्द पूरा कराने के लिए कहा।� टाइम लिमिट की बैठक पूरी तरह विश्व हिन्दी सम्मेलन की तैयारियों पर ही केंद्रित रही। 10 से 12 सितंबर तक आयोजित होने वाले इस सम्मेलन की तैयारियों की प्रगति पर बैठक में विस्तार से चर्चा की गई।

 

comments