खरगोन–टीएंडसीपी के दो अफसर रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

7_1429825400खरगोन. लोकायुक्त पुलिस इंदौर ने खरगोन में टीएंडसीपी के सब इंजीनियर हरिसिंह सोलंकी को गुरुवार को ऑफिस में 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ लिया। रिश्वत सहायक संचालक और कार्यालय प्रभारी अशोक बासुनिया ने भी मांगी थी। इसलिए उन्हें भी गिरफ्तार किया। केस दर्ज कर एक-एक लाख के मुचलके पर छोड़ दिया।

लोकायुक्त एसपी अरुण मिश्रा के मुताबिक, अफगान पिता साबिर खान निवासी गुलशन नगर खरगोन की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई। मामला यह है कि कमल गोयल को भारत पेट्रोलियम कंपनी लि. (बीपीसीएल) ने खरगोन में पेट्रोल पंप मंजूर किया है। इस पर गोयल ने अफगान से जुलवानिया रोड पर जमीन ली है। पेट्रोल पंप के लिए टीएंडसीपी की दो एनओसी लगती है। पहली जमीन डायवर्शन और दूसरी पंप स्थापित करने के लिए। इसी के लिए रिश्वत मांगी जा रही थी।
तैयार थी एनओसी
अफसरों ने अफगान से कहा था कि एनओसी हस्ताक्षर के साथ तैयार हैं। दोपहर 12.30 बजे अफगान वहां पहुंचे। तब दोनों अपने-अपने कक्ष में बैठे थे। चर्चा के मुताबिक अफगान ने सब इंजीनियर सोलंकी के कक्ष में पहुंचकर रुपए दिए। सोलंकी ने रुपए गिनकर जैसे ही टेबल की दराज में रखे, वैसे ही लोकायुक्त निरीक्षक युवराजसिंह चौहान और टीम ने उसे रंगेहाथ पकड़ लिया। बाद में सोलंकी व बासुनिया को भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर मौके पर जमानत दे दी गई

comments