Monday, November 30

गंजबासौदा –शिक्षक डंडे बरसाता रहा…

bpl-n2064064-largeगंजबासौदा

कक्षा6 में अध्ययनरत छात्र हरदूखेड़ी निवासी परसराम कुशवाह शिक्षक को पहाड़े नहीं सुना पाया तो उसे शिक्षक द्वारा बेशरम के हरे डंडे से पीटा गया। डंडों के निशान छात्र की पीठ पर उभर आए हैं। छात्र के दादा उसे लेकर कोतवाली रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचे। वार्ड क्रमांक एक रामनगर कालोनी में सरस्वती ज्ञान मंदिर स्कूल में अध्ययनरत इस छात्र को शिक्षक ने होमवर्क दिया था। छात्र ने होमवर्क तो कर लिया लेकिन पहाड़े याद करना भूल गया। छात्र पहाड़े नहीं सुना पाया। इस पर शिक्षक को गुस्सा गया। सामने रेलवे परिसर में लगी बेशरम का उसने हरा डंडा मंगाया और छात्र की पीठ पर बरसाने लगा।

छात्र बहुत रोया गिड़गिड़ाया लेकिन शिक्षक डंडे बरसाता रहा। शिक्षक का कहना था कि घर जाकर शिकायत कर देना हमारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। छात्र के दादा शंकरलाल कुशवाह ने बताया शिक्षक पहले भी उसके नाती को पीट चुका है लेकिन पढ़ाई में यह सब होता है इसलिए इसकी शिकायत नहीं की। इस बार उसने ऐसी पिटाई की कि बच्चे की पीठ पर निशान उभर आए हैं। निशानों में जलन पड़ रही है।

इस मामले में बीआरसी अनिरूद्ध ढिम्हा ने बताया कि किसी भी छात्र को शारीरिक या मानसिक रूप से प्रताडि़त नहीं किया जा सकता। ऐसे मामले में स्कूल की मान्यता समाप्त करने का प्रावधान है। इस मामले में स्कूल के प्रधानाध्यापक विश्वनाथ ने बताया छात्र को होमवर्क दिया था। नहीं किया तो उसे हल्के से पीट दिया। परिजनों को यदि ऐतराज है तो भविष्य में उसे नहीं मारेंगे।

चार मकानों में चल रहा स्कूल

रामनगर में सरस्वती ज्ञान मंदिर स्कूल कक्षा से तक संचालित है। आवासीय क्षेत्र के चार कमरों में आठ कक्षाएं संचालित होती हैं।

स्कूल में तो छात्रों के लिए खेलने का मैदान है ही वह मान्यता के लिए प्रस्तावित शर्तों की पूर्ति करता है। शिक्षा विभाग इन संस्थानों के बारे में खामोश है। सुविधाओं के नाम पर स्कूल संचालक पालकों से मोटी रकम अवश्य वसूल रहे हैं

comments