कांग्रेसियों में समाया हार का डर

Rahul Gandhi

नईदिल्ली। कांग्रेस के कई युवा सांसदों को लगता है कि उनके वरिष्ठ नेता अभी से चुनाव को हारी हुई बाजी मान रहे हैं। उन्होंने उपाध्यक्ष राहुल गांधी को साफ तौर पर यह बताया है। राहुल ने पार्टी के युवा सांसदों विधायकों व नेताओं से कहा है कि अभी से हार मानने की जरूरत नहीं है। वह कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्यों से भी अनौपचारिक तौर पर मिल रहे हैं। राहुल गांधी अपनी राय से कार्यसमिति के सदस्यों को अवगत कराएंगे। उनसे सुझाव मांगेगे, साथ ही अपना चुनावी एजेंडा भी बताएंगे। कांग्रेस कार्यसमिति में अध्यक्ष सोनिया गांधी, कराएंगे। उनसे सुझाव मांगेगे, साथ ही अपना चुनावी एजेंडा भी बताएंगे। कांग्रेस कार्यसमिति में अध्यक्ष गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत तमाम बड़े नेता शामिल हैं। राहुल द्वारा इसकी बैठक बुलाए जाने को इस बात के संकेत के रूप में देखा जा रहा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पार्टी के चुनाव प्रचार की कमान पूरी तरह अपने हाथों में ले ली है।
युवा सांसदों से मुलाकात में राहुल ने कहा कि पार्टी को आम चुनाव पूरी ताकत से लडऩा है क्योंकि कांग्रेस के पास बताने को बुहत कुछ है। उन्होंने भ्रष्टाचार के मसले पर किसी भी तरह से रक्षात्मक न होने का सुझाव दिया। कहा कि लोगों को बताना है कि विपक्ष किस तरह से भ्रष्टाचार विरोधी विधेयकों की राह में रोड़ा बनता रहा है। उन्होंने कहा कि हमें पूरी आक्रामकता से विपक्ष को जवाब देना है। कांग्रेस मुख्यालय पर हुई बैठक में करीब 45 नेता शामिल हुए। इनमें पार्टी के युवा सांसद, विधायक व पदाधिकारी शामिल थे। कुछ युवा नेताओं को शिकायत थी कि कुछ वरिष्ठ नेताओं के हावभाव से लगता है कि अभी से चुनाव को हारी बाजी मानकर चल रहे हैं। इसके जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव हमें पूरी ताकत से लडऩा है। उन्होंने चुनाव के घोषणा पत्र के बारे में युवा नेताओं के सुझाव मांगे औरअब तक के फीडबैक की जानकारी दी। राहुल गांधी ने कहा कि चुनाव में यूथ पर खास फोकस करना है। पार्टी चुनाव में भी ज्यादा से ज्यादा युवाओं पर दांव लगाने को तैयार है। पार्टी के घोषणा पत्र को कैसे आम आदमी का घोषणा पत्र बनाने का प्रयास हो रहा है इसके बारे में भी कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पार्टी नेताओं को बताया। पार्टी के कुछ नेताओं ने सुझाव दिया कि हर वर्ग के गरीबों का ख्याल पार्टी को रखना चाहिए। पार्टी का घोषणा पत्र ऐसा होना चाहिए जिसमें सभी वर्ग के गरीबों का ख्याल रखने की बात नजर आए। राहुल गांधी के साथ बैठक के बाद एक युवा सांसद ने कहा कि आम चुनाव की रणनीति खुद राहुल गांधी बना रहे हैं। यह बिल्कुल साफ है।

comments