हिरासत में लिए गये पायलेट को जल्द रिहा करे पकिस्तान - भारत | BetwaanchalBetwaanchal हिरासत में लिए गये पायलेट को जल्द रिहा करे पकिस्तान - भारत | Betwaanchal
दिनांक 10 December 2019 समय 3:51 PM
Breaking News

हिरासत में लिए गये पायलेट को जल्द रिहा करे पकिस्तान – भारत

नईदिल्ली | भारत सरकार ने भारतीय पायलेट अभिनन्दन को रिहा करने को लेकर एक बयान जारी किया हैं जारी बयान में भारत सरकार ने कहा हैं की वह तत्काल और बिना शर्त विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को रिहा करे। भारत ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अगर अभिनंदन की रिहाई के बदले पाक सौदेबाजी की उम्मीद कर रहा है तो यह उसकी बड़ी भूल है। इस बीच पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने कहा कि अगर भारत तनाव कम करने को तैयार है, तो रिहाई पर विचार किया जा सकता है। वही इस मामले में पाक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि आने वाले एक-दो दिन में हम तय करेंगे कि पकड़े गए पायलट पर कौन-सा कन्वेंशन लागू होगा और क्या उसे युद्ध बंदी माना जा सकता है या नहीं। वही खबर आ रही हैं की पकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस मसले पर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बात करना चाहते हैं लेकिन भारत सरकार ने साफ-साफ कह दिया हैं के पहले भारतीय पायलेट अभिनन्दन की रिहाई की जाए उसके बाद इस मुद्दे पर विचार किया जायेगा की बात होगी या नहीं भारत सरकार ने पकिस्तान को चेतावनी देते हुये कहा हैं की अगर हमारे पायलेट के साथ कुछ भी होता हैं तो भारत पकिस्तान पर करवाई करने से भी पीछे नहीं हटेगा

पाकिस्तानी फाइटर जेट को खदेड़ते हुये क्रेश हुआ था अभिनन्दन का जहाज

पाकिस्तान के विमानों ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की, जिन्हें सफलतापूर्वक खदेड़ दिया गया। पाकिस्तान के एफ-16 विमान को पीछा करने वालों में भारत का मिग-21 भी था, जिसे वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन उड़ा रहे थे। पाक विमान का पीछा करने के चक्कर में अभिनंदर पीओके में चले गए, जहां उनके विमान पर मिसाइल दागी गई। उनका मिग-21 क्रैश हो गया और वे पैराशूट से बाहर निकल आए, जिसके बाद पाक सेना ने उन्हें पकड़ लिया। भारत पकिस्तान के बीच चलती इस तकरार के बीच भारत की थल, वायु और नौसेना ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी। मंत्रालय के अफसर ने कहा- हमें यकीन है कि पाकिस्तान की हवाई घुसपैठ सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले के लिए थी। हमारे एयरफोर्स के पायलट के साथ बुरा बर्ताव हो रहा है, जो जेनेवा कंवेंशन का उल्लंघन है।

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top