दिनांक 06 August 2020 समय 3:20 PM
Breaking News

क्या म.प्र. के नेताओं का भी संगरक्षण था पांच लाख के इनामी विकास दुवे को ?

रहस्यमय तरीके से विकास दुवे की गिरफ्तारी उज्जैन से हुई इससे विकास दुवे के तार म.प्र. से भी जुडे दिखाई दे रहे है ।म.प्र. से विकास दुवे की गिरफ्तारी ने प्रश्न खडे कर दिये है ।क्या विकास दुवे को म.प्र. में भी राजनैतिक संगरक्षण प्राप्त था । इस हाईप्रोफाइल अपराधी को यूपी सहित देश भर की पुलिस तलाश रही थी जिस पर पांच लाख का इनाम घोषित था ।वह अचनाक महाकाल की शरण में कैसे पहुंच गया । जवकि उज्जैन महाकाल मेंं कई स्तर की जांच के बाद मंदिर तक पहुंचा जाता है ।

विकास दुवे की अपराध गाथा तो पूरे देश को पता चल गई पर इस अपराध गाथा के ओर कोन कोन साथी है उनका भी खुलासा होना चाहिए आखिर वो कोन नेता , अधिकारी है जो इस तरह के अपराधी को पाल रहे थे । क्योंकि बगैर राजनैतिक संगरक्षण ओर अधिकारियों की मिली भगत के बगैर विकास दुवे अपने कारनामों को अंजाम नहीं दे सकता था । जिस यरह पुलिस के लोगों की भूमिका सामने आई है उसी तरह नेताओं के चेहरे भी सामने आना चाहिए।

विकास दुवे का मध्यप्रदेश से पकड़ा जाना भी कई संदेहों को जन्म देता है ।यूपी के कानपुर से फरार ये अपराधी उज्जैन तक पैदल तो नहीं पंहुच गया इसे यहां तक किसने पहुंचाने में मदद की । जिस तरह से मीडिया ओर पुलिस विकास दुवे के पीछे लगी थीं तो यूपी से एमपी के अंदर किसने प्रवेश दिलवाया । अभी ऐसे कई प्रश्न खडे है इसका जवाब पुलिस को ही तलाशना पडेगा।

यदि विकास द

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top