लाइफ स्टाइल | BetwaAnchal Daily News Portal | Page 80
दिनांक 18 January 2019 समय 5:15 AM
Breaking News

Category Archives: लाइफ स्टाइल

नरक चतुर्दशी को ये 14 नाम बोलकर करें यम तर्पण

875_b

उज्जैन। कार्तिक मास के कृष्ण चतुर्दशी को नरक चतुर्दशी, यम चतुर्दशी कहते हैं। इस बार यह पर्व 22 अक्टूबर बुधवार को है। इस दिन यमराज की पूजा व व्रत का विधान है। नरक चतुर्दशी से जुड़ी कई कथाएं हमारे धर्म ग्रंथों में मिलती हैं। पूजन विधि- इस दिन शरीर पर तिल के तेल की मालिश करके सूर्योदय के पूर्व स्नान ... Read More »

दिवाली पर करें इनमें से कोई भी एक उपाय हो सकता है धन लाभ

6136_l (1)

उज्जैन। धर्म ग्रंथों के अनुसार कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस व अमावस्या को दीपावली का पर्व मनाया जाता है। ये दोनो ही दिन धन संबंधी उपाय करने के लिए स्वयंसिद्ध मुहूर्त है। इस बार धनतेरस 21 अक्टूबर, मंगलवार तथा दीपावली 23 अक्टूबर, गुरूवार को है। धनतेरस के दिन देवताओं को कोषाध्यक्ष कुबेरदेव तथा दीपावली के दिन ... Read More »

धनतेरस आज राशि अनुसार क्या खरीदें क्या नहीं, जानिए पूजन विधि व शुभ मुहूर्त

2334_e

उज्जैन। कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस का पर्व मनाया जाता है। इस दिन से ही दीपावली पर्व का प्रारंभ हो जाता है। इस बार यह पर्व 21 अक्टूबर, मंगलवार को है। इस पर्व पर भगवान धनवंतरि की पूजन का विधान है। ज्योतिष के अनुसार ये दिन खरीदी के लिए बहुत ही शुभ होता है। इस ... Read More »

करवा चौथ पर न भूलें ये 16 चीजें, मान्यता है इनसे बढ़ती है पति की उम्र

KarwaChauthCelebration (4)

उज्जैन। 11 अक्टूबर को करवा चौथ है। एक बार फिर इस दिन सुहागनें अपने सुहाग की रक्षा के लिए मंगल कामना करेंगी। चौथ के दिन सुहागन स्त्रियों के लिए श्रृंगार का विशेष महत्व माना गया है। हमारे हिंदू धर्म में सुहागन स्त्रियों के लिए 16 चीजें करना जरूरी मानी गई हैं। माना जाता है कि ये 16 चीजें किसी भी ... Read More »

नवरात्र में जगाएं अपने अंदर की शक्तियां, जानिए सप्त चक्र के बारे में

7299_j

उज्जैन। शारदीय नवरात्रि का प्रारंभ हो रहा है। हमारे पूर्वजों ने इन 9 दिनों में माता की भक्ति के साथ ही योग का विधान भी निश्चित किया है। हमारे शरीर में सात चक्र होते हैं। नवरात्रि में हर दिन एक विशेष चक्र को जाग्रत किया जाता है, जिससे हमें ऊर्जा प्राप्त होती है। हम अगर इस ऊर्जा का ठीक प्रबंधन ... Read More »

नवरात्रि में ये साधारण उपाय करने से इनकम से जुड़ी प्रॉब्लम्स दूर हो सकती हैं

6057_untitled-5

उज्जैन। हमारे धर्म ग्रंथों में कहा गया है धनेन बलवांल्लोके धनाद्भवति पण्डित:। सरल शब्दों में अर्थ है धन से इंसान ताकतवर बनता है यानी धनवान व्यक्ति की गिनती गुणी, विद्वान और योग्य लोगों में होने लगती है। यही कारण है कि हर इंसान जीवन में सुख और धन पाने की कामना करता है। यदि आप भी ठाठ से जीवन गुजारने ... Read More »

इस दुनिया में बच्चियों के साथ कैसे हो रहा है अत्याचार

4821_child

दुनियाभर के तमाम विकासशील देशों में लड़कियों की जिंदगी बहुत मुश्किल है। बुनियादी अधिकार देना तो दूर की बात, उनसे अपना बचपन जीने का अधिकार भी छीन लिया जाता है। उन्हें जबरन बाल विवाह के बंधन में बांध दिया जाता है। इनमें से कुछ की उम्र तो पांच साल तक होती है। बाल विवाह का शिकार लड़के भी हैं, लेकिन ... Read More »

नागपंचमी को यदि सांप सीधे हाथ की ओर से रास्ता काटे तो होता है शुभ

8102_snake_on_road1

भोपाल। अगले माह अगस्त 2014 की पहली तारीख को नागों की विशेष पूजा की जाएगी, क्योंकि इस दिन नागपंचमी है। हिन्दी पंचाग के अनुसार सावन माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी को नागपंचमी के रूप में मनाया जाता है। देशभर के सभी नाग मंदिरों में और शिव मंदिरों में इस दिन नाग देव के दर्शन किए जाते हैं और सुख-समृद्धि ... Read More »

जब भी कोई लड़की शादी करे, उसे लड़के में जरूर देखना चाहिए ये खास लक्षण

5499_untitled-7

उज्जैन। कहते हैं कि किसी भी लड़के को शादी किसी लड़की का मुंह देखकर नहीं, बल्कि पैर देखकर करना चाहिए। इसके अलावा सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार कन्या के शुभ गुण और लक्षण देखने के लिए उनके पैर और चाल को भी देखा जाता है, लेकिन शास्त्रों में केवल महिलाओं के लिए ही नहीं पुरूषों के लिए भी शुभ गुण लक्षण ... Read More »

स्वयं शिव रहते हैं यहां, इसीलिए इसे कहते हैं ब्रह्मांड का केंद्र

7179_untitled-22

उज्जैन। यदि आप अपनी भागमभाग और तनाव भरी जिंदगी से कुछ पल प्रकृति की गोद में बिताना चाहते हैं, तो कैलाश मानसरोवर एक बेहतर जगह है। पूरे हिमालयी क्षेत्र में यह सबसे ज्यादा आध्यात्मिक संवेदना वाला माना जाता है। शिवपुराण में इसे ब्रह्मांड का केंद्र कहा गया है। कैलाश पर्वत तिब्बत में स्थित एक पर्वत श्रेणी है। इसके पश्चिम, दक्षिण ... Read More »

Scroll To Top