विदिशा-एसएटीआई और आईआईटी गांधीनगर के बीच साइन हुआ यह एमओयू | BetwaanchalBetwaanchal विदिशा-एसएटीआई और आईआईटी गांधीनगर के बीच साइन हुआ यह एमओयू | Betwaanchal
दिनांक 27 June 2019 समय 3:43 AM
Breaking News

विदिशा-एसएटीआई और आईआईटी गांधीनगर के बीच साइन हुआ यह एमओयू

rrrrrrविदिशा। सम्राट अशोक अभियांत्रिकीय संस्थान और आईआईटी गांधीनगर के बीच अब नॉलेज एक्सचेंज आसान हो जाएगा। इसके लिए दोनों इंजीनियरिंग संस्थानों को नॉलेज नेटवर्क से जोड़ा गया है। दोनों संस्थानों द्वारा इसके लिए एक अनुबंध साइन किया है।
प्रदेश के पांच इंजीनियरिंग संस्थानों को नॉलेज नेटवर्क से जोड़ा गया है। इन संस्थानों में मैनिट भोपाल, एसजीएसआईटीएस इंदौर, एमआईटीएस ग्वालियर, एसएटीआई विदिशा सहित यूटीआई आरजीपीवी भोपाल शामिल हैं। इनमें से एसएटीआई का एमओयू आईआईटी गांधीनगर से साइन हुआ है।
ऎसे मिलेगा लाभ
इस एमओयू के बाद एसएटीआई का कोई भी छात्र व फैकल्टी आईआईटी गांधीनगर गुजरात में छह माह तक अध्ययन-अध्यापन कर सकते हैं। अब एसएटीआई के छात्र पीएचडी करने के लिए आईआईटी भी जा सकते हैं। यहां के छात्र आईआईटी के उच्च स्तरीय पुस्तकालय और प्रयोगशालाओं का उपयोग भी कर सकते हैं।
मप्र में सुविधा नहीं
स्टेट इंजीनियरिंग कॉलेज में उच्च स्तरीय प्रयोगशालाओं, मंहगे और अत्याधुनिक उपकरणों, मंहगे शोध पत्रों तथा पुस्तकों का अभाव है। भारी भरकम कीमत होने के कारण प्रदेश के इंजीनियरिंग कॉलेज यह सुविधा अपने छात्रोें को नहीं दे पाते हैं, जबकि आईआईटी में उच्च स्तरीय सुविधाएं मौजूद हैं। स्टूडेंट-फैकल्टी एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत अब यह सुविधा एसएटीआई के छात्रों और फैकल्टी को भी उपलब्ध हो सकेगी।
एसएटीआई और आईआईटी गांधीनगर के बीच साइन हुआ यह एमओयू हमारे लिए काफी लाभकारी और ज्ञान के खजाने के समान है। एसएटीआई इसमें उत्साह के साथ शामिल हो रहा है। प्रो. संदीप सराफ, को-आर्डीनेटर, नॉलेज नेटवर्क

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top