दिनांक 15 November 2018 समय 9:24 AM
Breaking News

सांसद आदित्यनाथ के संगठन के डर से गांव से भागे 150 मुस्लिम परिवार

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

adityanath_142484318गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के मधोपुर गांव में 150 मुस्लिम परिवारों के कथित तौर पर गांव छोड़कर भागने की घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल व्याप्त है। आरोप है कि एक जमीन के विवाद में बीजेपी सांसद आदित्यनाथ के संगठन हिंदू युवा वाहिनी द्वारा नुकसान पहुंचाए जाने की आशंका की वजह से ये मुस्लिम परिवार गांव छोड़कर भागने को मजबूर हुए। किसी किस्म की गड़बड़ी से निपटने के मद्देनजर इलाके में भारी संख्या में पुलिसबल की तैनाती कर दी गई है।

कुशीनगर के एडिशनल डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट राम केवल तिवारी ने एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत में कबूला कि गांव में तनाव का माहैल है। तिवारी ने कहा कि यह एक संपत्ति का मामला है, जिसमें थोड़ी बहुत झड़प भी हुई। तिवारी के मुताबिक, इलाके में हिंदू युवा वाहिनी सक्रिय है और लगातार बैठकें करती रहती है। हालांकि, तिवारी का दावा है कि मुस्लिम परिवार गांव छोड़कर नहीं गए।
हिंदू महापंचायत का आयोजन
उधर, हिंदू युवावाहिनी ने मधोपुर गांव में सोमवार को हिंदुओं के समर्थन में एक बैठक रखी। संगठन ने कथित तौर पर धमकी दी है कि अगर विवाद से जुड़े डेढ़ एकड़ जमीन का मालिकाना हक हिंदू गांववाले को नहीं मिला तो 3 मार्च को हिंदू महापंचायत का आह्वान किया है। हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा कि दिग्विजय किशोर शाही नाम के उनके कार्यकर्ता की मुसलमानों ने पिटाई की, जब उसने अपने जमीन को हड़पे जाने की कोशिश का विरोध किया। सुनील के मुताबिक, गलती मुसलमानों की है, इसलिए वे भाग गए और इसके लिए हिंदू युवा वाहिनी जिम्मेदार नहीं है।
क्या है मामला 
स्थानीय लोगों का कहना है कि दिग्विजय किशोर शाही और एक अन्य गांववाले आमीन के बीच डेढ़ एकड़ के एक प्लॉट को लेकर विवाद है। दोनों ही पक्ष इस जमीन पर अपना हक बता रहे हैं। 13 फरवरी को दोनों पक्षों के बीच मारपीट भी हुई। मुसलमानों का आरोप है कि करीब 1 हजार हिंदू युवावाहिनी कार्यकर्ताओं ने गांव पर हमला किया। उधर, शाही की शिकायत पर दो मुस्लिम लोगों को गिरफ्तार किया गया है
ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top