दिनांक 22 February 2018 समय 12:47 AM
Breaking News

हार्वर्ड ने खोली लालू की बेटी मीसा की पोल, बचाव में आगे आए लालू

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

misa1_1425977010 (1)पटना. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रमुख लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती की एक दावे को लेकर किरकिरी हो रही है। मीसा ने दावा किया था कि उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में लेक्‍चर दिया है, लेकिन यूनिवर्सिटी की ओर से बताया गया है कि मीसा को सिर्फ लेक्चर सुनने के लिए बुलाया गया था। इस बीच, आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव ने बेटी मीसा भारती का बचाव किया है। लालू ने कहा है कि मीसा ने कभी भी ऐसा बयान नहीं दिया जिसमें उन्होंने हार्वर्ड में लेक्चर देने की बात कही हो। लालू ने कहा कि मीसा को सिर्फ एक गेस्ट के तौर पर व्याख्यान में बुलाया गया था और उन्होंने वहां की टिकट भी ली थी। उन्हें नहीं पता कि कहां से ऐसी अफवाहें उड़ रही हैं।हार्वर्ड ने कहा, हमने वक्ता के रूप में नहीं बुलाया

7-8 मार्च को हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में ‘इंडिया कॉन्फ्रेंस’ हुई थी। इसमें डॉ. मीसा भारती भी गई थीं। उन्‍होंने अपनी तरफ से कुछ फोटो सोशल मीडिया (फेसबुक औरट्विटर) पर अपलोड कीं और बताया कि मीसा ने कॉन्‍फ्रेंस को संबोधित किया। लेकिन, इंडिया कॉन्फ्रेंस के को-चेयर रजत सेठी के मुताबिक, ‘मीसा को दर्शक-श्रोता के तौर पर बुलाया गया था न कि वक्ता के तौर पर। इस बात की पुष्टि इससे भी की जा सकती है कि उन्होंने कॉन्‍फ्रेंस में आने के लिए टिकट खरीदा था। उन्हें लेक्चर देने के लिए नहीं बुलाया गया था और उन्होंने यहां कोई लेक्चर नहीं दिया।’ उन्‍होंने कहा कि यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर कॉन्फ्रेंस में आमंत्रित वक्ताओं की सूची में भी मीसा का नाम नहीं है।
कार्यक्रम के बाद मंच पर जाकर खिंचवाईं फोटो?
बताया जा रहा है कि कॉन्‍फ्रेंस खत्म होने के बाद मीसा मंच पर चली गईं और खूब तस्वीरें खिंचवाईं। इन तस्वीरों को ही सभी भारतीय अखबारों को ये कहकर जारी कर दिया गया कि मीसा ने यहां पर लेक्चर दिया।
अभी अमेरिका में हैं मीसा
मीसा अभी अमेरिका में ही हैं और उन्होंने विवाद को लेकर कुछ नहीं कहा है। आरजेडी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक मीसा ने सिर्फ प्रतिभागी के तौर पर कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लिया था।

 

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top