दिनांक 21 January 2018 समय 10:11 AM
Breaking News

स्टेज पर पहुंचा सिरफिरा प्रेमी, बधाई दी और दुल्हन पर चला दी गोली

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

5121_71__

भोपाल। लालघाटी के पास सुंदरवन कोहिनूर मैरिज गार्डन में गुरूवार देर रात शादी समारोह में एक युवक ने स्टेप पर चढ़कर दुल्हन डॉ. जयश्री नामदेव को गोली मार दी। अस्पताल में इलाज के दौरान दुल्हन की मौत हो गई। आरोपी को भीड़ ने बुरी तरह पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। उसके पास से देशी कट्टा बरामद किया गया है, जिससे उसने दो फायर किए थे। पुलिस का अनुमान है कि आरोपी इस युवती से एकतरफा मोहब्बत करता होगा, इसीलिए उसने यह कदम उठाया।
सुंदरवन मैरिज गार्डन में गुरूवार रात गांधी मेडिकल कॉलेज के शिशु रोग विभाग में पदस्थ डॉ. जयश्री नामदेव की इसी कॉलेज से सर्जरी में पीजी कर रहे डॉ. रोहित नामदेव के साथ शादरी हो रही थी। स्टेप पर वरमाला के बाद दुल्हा-दुल्हन को बधाई देने के लिए लोग पहुंच रहे थे। रात लगभग 11.15 बजे अचानक एक युवक ने स्टेप पर पहुंचकर नजदीक से दुल्हन जयश्री को गोली मार दी। दो फायर करने के बाद युवक ने खुद को भी गोली मारने की कोशिश की लेकिन लोगों ने उसे पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। घायल जरूरी को तत्काल लालघाटी चौराह स्थित एक प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। मौरिज गार्डन में रात 10 बजे वरमाला हुई। तब तक सबकुछ ठीक था। लेकिन आरोपी अनुराग यहां दाखिल हो चुका था। कुछ लोगों ने उसे स्टेज के पीछे देखा था। लगभग 11.15 बजे वह स्टेप पर पहुंचा। अचानक कट्टा निकाला और दुल्हन पर फायर कर दिया। तभी शादी समारोह में मातम का माहौल हो गया। स्टेज पर खून बिखरा हुआ था। शुभकामनाओं में मिले गुलदस्ते खून से सने थे और गिफ्ट एक कोने में पड़े हुए थे। शादी स्थल पर लोगों की पगडिय़ां जमीन पर पड़ी थी। इस मैरिज गार्डन के आसपास जहां दूसरी शादियां थीं, वहां भी घटना की जानकारी के बाद उल्लास खत्म हो गया था।
दुल्हन की बुआ का बेटा निकला आरोपी: जयश्री को गोली मारने वाले युवक की पहचान अनुराग नामदेव के रूप में हुई है। अनुराग जयश्री की बुआ का लड़का है। वह मूलत: गढ़ाकोटा का रहने वाला है। बताया जाता है कि वह एचडीएफसी बैंक में नौकरी करता है। अनुराग ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वह जयश्री को चाहता था। उससे अक्सर मिलता रहता था। वह भोपाल में बैंक की कोचिंग कर चुका है। जैसे ही जयश्री को गोली लगी, समारोह स्थल पर सन्नाटा पसर गया। दूल्हा-दुल्हन के परिजन सिसकियां भर रहे थे। लोग उन्हें दिलासा दे रहे थे कि जयश्री को कुछ नहीं होगा, वह जल्द ही ठीक हो जाएगी। थोड़ी देर बाद जब जयश्री की मौत की खबर मिली तो फिर जैसे वहां कोहराम मच गया।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top