मोदी को खुश करने के लिए नवाज ने अजहर को अरेस्ट कराया | BetwaanchalBetwaanchal मोदी को खुश करने के लिए नवाज ने अजहर को अरेस्ट कराया | Betwaanchal
दिनांक 16 September 2019 समय 12:02 AM
Breaking News

मोदी को खुश करने के लिए नवाज ने अजहर को अरेस्ट कराया

Betwaanchal news

Betwaanchal news

इस्लामाबाद. लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद का कहना है कि नवाज शरीफ सरकार ने मौलाना मसूद अजहर और बाकी जिहादियों को अरेस्ट कर बड़ी गलती की है। नवाज अपने मुल्क को नजरअंदाज कर मोदी सरकार को खुश करने के लिए ये कार्रवाई कर रहे हैं। बता दें कि हाफिज मुंबई हमलों और जैश-ए-मोहम्मद का चीफ अजहर पठानकोट अटैक का मास्टरमाइंड है।

भारत और इजराइल के बारे में क्या कहा सईद ने….
– शुक्रवार को लाहौर के करीब एक रैली में जमात-उद-दावा चीफ ने कहा कि भारत और इजराइल दोनों दुश्मन देश पाकिस्तान के एटमी हथियारों की रेंज में हैं।
– उसने कहा कि नवाज शरीफ ने पाकिस्तान के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति के सामने अपनी बात नहीं रखी।
– नरेंद्र मोदी जम्मू-कश्मीर में आर्मी ऑफिसर्स को बसा रहे हैं।
– सईद ने कहा, “अजहर की गिरफ्तारी से दुखी हूं। यह गिरफ्तारी मोदी सरकार को खुश करने के लिए की गई है। इसकी वजह से कश्मीर मुद्दे को लेकर पाकिस्तान पर भारत का दबाव बढ़ेगा।”
– उसने कहा, “कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को पीछे हटना पड़ेगा। नवाज सरकार नेशनल इंटररेस्ट को नजरअंदाज कर रही है।”
– सईद ने कहा कि सुषमा जब पाकिस्तान आईं थीं तो उनके एजेंडे में छह प्वाइंट थे। इनमें से तीन जमात-उद-दावा के बारे में थे।
कौन है मसूद अजहर और हाफिज सईद
– मसूद अजहर वही आतंकी है, जिसे 1999 में हाईजैक हुए इंडियन एयरलाइन्स के प्लेन को छुड़ाने अफगानिस्तान के कंधार ले जाकर रिहा किया गया था।
– पठानकोट के एयरबेस पर हमला करने वाले आतंकियों ने पाकिस्तान के बहावलपुर में सैटेलाइट फोन के जरिए बातचीत की थी।

– मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अजहर बहावलपुर में ही रहता है। यहीं जैश के आतंकियों को ट्रेनिंग देता है। पाकिस्तानी एजेंसियों ने उसे वहीं से हिरासत में लिया।
-वहीं, सईद 2008 के मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है। उसी के आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकियों ने मुंबई में 10 से ज्यादा ठिकानों पर हमला किया था। हमले में 160 से ज्यादा लोगों की जान गई थी।

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top