दिनांक 20 January 2018 समय 2:55 PM
Breaking News

भोपाल-मां-बाप की संपत्ति हड़पी तो रजिस्ट्री होगी शून्य

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

2_1426455119भोपाल. मानवाधिकार आयोग ने ऐसे बुजुर्गों को बड़ी राहत दी है जिनके बच्चे या रिश्तेदार उनकी संपत्ति हड़प लेते हैं। आयोग ने शासन से सिफारिश की है कि यदि कोई बुजुर्ग इस बात की शिकायत करता है कि बच्चों ने जबरदस्ती उनकी संपत्ति हड़पी है तो एसडीएम को इस मामले में तुरंत कार्रवाई करनी होगी। ऐसी संपत्ति की रजिस्ट्री को खारिज कर शून्य घोषित कराया जाएगा।

आयोग ने संपत्ति मामलों में रजिस्ट्री शून्य करने का प्रावधान मौजूद होने के बावजूद इसका उपयोग न किए जाने पर आपत्ति की है और सरकार से इसका पालन कराने को कहा है।
आयोग में बच्चों द्वारा बुजुर्गों की संपत्ति हड़पने की शिकायतें बड़ी संख्या में पहुंच रही हैं। ज्यादातर मामलों में संपत्ति हड़पने के बाद बच्चे अपने बुजुर्गों की देखभाल नहीं करते।
आयोग के मुताबिक माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण एवं कल्याण नियम 2009 के तहत पांच साल में किसी भी थाने में प्रकरण दर्ज नहीं हुए हैं। आयोग ने सिफारिश करते हुए कहा है कि सभी थानों में एक्ट के अध्याय 6 की धारा 24 के तहत प्रकरण दर्ज किया जाए। यह एक संज्ञेय अपराध है। इसके तहत तीन माह तक का कारावास और जुर्माने का प्रावधान है। आयोग ने शासन से सिफारिशों का पालन प्रतिवेदन दो माह में प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।
ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top