दिनांक 16 July 2018 समय 12:25 PM
Breaking News

बस स्टैंड परिसर की हालत बहुत ही खराब फर्श पर निकले लोहे के सरिए साथ ही पास ही में गंदा पानी भरा रहता है।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail
Betwaanchal news

Betwaanchal news

गंजबासौदा। बस स्टैंड परिसर की हालत बहुत ही खराब होती जा रही है। फर्श पर निकले लोहे के सरिए निकलने के कारण यात्री घायल हो जाते है। तीन साल से फर्श  की यही हालत बनी हुई है।
इसके अलावा दोपहिया और चार पहिया वाहनों के टायर पंक्चर हो जाते हैं। इस समस्या से नपा को बस संचालकों व नागरिकों द्वारा तीन साल से अवगत कराया जा रहा है। छह महीने पहले मुख्य नगर पालिका अधिकारी ने बस स्टैंड पर फर्श और नाला निर्माण कार्य जल्द शुरू करने का आश्वासन दिया था लेकिन निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं हो पाया। इससे लोगों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

यात्री प्रतीक्षालय बाजार में तब्दीलरू बस स्टैंड की समस्या पर नपा द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा। इसके चलते यात्रियों को बैठने के लिए बनाए गए यात्री प्रतीक्षालय में दुकानदारों ने स्थाई डेरा जमा रखा है। इससे यात्रियों को बैठने जगह तक नसीब नहीं होती। यात्री बाहर मैदान में बैठते हैं। प्रतीक्षालय में दुकानदार कारोबार करते हैं। साथ ही  पास ही में गंदा पानी भरा रहता है। लेकिंन नगरपालिका इस ओर कोई ध्यान नही दे रही है। लगभग 16 साल हो गये फर्श का निर्माण किये हुये
फर्श पर बसों और वाहनों के दबाव से बड़े

Betwaanchal news

Betwaanchal news

गड्ढे हो गए हैं। उनमें से सरिए उभर आए हैं। इस कारण बस पकड़ने की जल्दबाजी में यात्री व नागरिक आए दिन सरियों में उलझकर गिर रहे हैं। सरिया वाहन के टायरों में घुस जाते हैं। इस कारण वाहनों के टायर खराब हो जाते हैं। वाहन चालकों को परेशान होना पड़ता है। सरियों में उलझकर गिरने से कई लोगों को पैर में चोट आ चुकी है।

फर्श की मरम्मत जरूरी

सामाजिक कार्यकर्ता विष्णु महाराज ने बताया कि बस स्टैंड पर सीसी फर्श मरम्मत के लिए कार्रवाई करना जरूरी है। नगर का मुख्य बस स्टैंड होने के कारण प्रतिदिन कम से कम 3 से 9 हजार यात्रियो का आना-जाना होता हैं। इस कारण फर्श पर उभरे गड्ढे यात्रियों के लिए परेशानी का कारण बन रहे हैं। अधिकांश यात्री परिसर के फर्श पर बैठकर ही बसों की प्रतीक्षा करते हैं।

बस खड़ी होने के स्थान पर लगातार हो रहा है अतिक्रमण

जहां बसें खड़ी रहती हैं उस परिसर के चारों तरफ गुमठी और टीन शेड बनते जा रहे हैं। हाथ ठेले खड़े हो रहे हैं। होटलों की सामग्री परिसर में पड़ी रहती है। इसके चलते पूरा परिसर छोटा होता जा रहा है। बसों को स्टैंड पर आगे पीछे खड़ा करना पड़ रहा है। इससे यात्रियों को बसों से चढ़ने उतरने में समस्या आ रही है।

वित्तीय स्थिति नहीं है ठीक

बस स्टैंड परिसर मरम्मत के लिए एस्टीमेट बनाया जा चुका है लेकिन नगर पालिका की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं होने से कार्य शुरू नहीं हो पा रहा है। पहले जो कार्य हो चुके हैंए उनका भुगतान भी नहीं हो पा रहा है। सुधीर उपाध्यायए मुख्य नगर पालिका अधिकारी गंजबासौदा

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top