दिनांक 19 January 2018 समय 6:56 PM
Breaking News

पेइचिंग पहुंचे PM मोदी, अहम समझौतों पर रहेगी नजर

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

middleपेइचिंग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चीन दौरे का आज दूसरा दिन है। वह शियान में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ शिखर वार्ता के बाद देर रात चीन की राजधानी पेइचिंग पहुंचे हैं।

यहां मोदी चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग से मुलाकात करेंगे और मेजबान प्रेजिडेंट शी जिनपिंग के साथ साझा बयान भी जारी करेंगे।जानकारी के मुताबिक इस मुलाकात में कई अहम समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं। इन समझौतों के बाद भारत और चीन के बीच व्यापारिक संतुलन को बेहतर बनाए रखने में काफी मदद मिलेगी।

मोदी शुक्रवार को ग्रेट हॉल ऑफ पीपल में प्रधानमंत्री ली से मुलाकात करेंगे और दोनों नेताओं के सीमा-मामले पर विचार करने की उम्मीद है।

सीमा मुद्दा दोनों देशों के बीच दशकों से रिश्तों में तल्खी की वजह बनता रहा है। उम्मीद की जा रही है कि प्रधानमंत्री इस दौरान चीनी निवेशकों को भारत में निवेश का न्यौता देकर ‘मेक इन इंडिया’ अभियान से जोड़ने की पहल भी करेंगे।वह यहां नेशनल पीपल्स कांग्रेस (चीनी संसद) के अध्यक्ष झांग दैज्यांग से भी मिलेंगे। मोदी प्रतिष्ठित त्सिंगुआ यूनिवर्सिटी में छात्रों को संबोधित करेंगे और इसके बाद टेंपल ऑफ हैवन जाएंगे, जहां वह योगा-ताइची संयुक्त कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसके बाद वह चीन दौरे के तीसरे चरण में शंघाई के लिए रवाना हो जाएंगे।

मोदी ने दिए उपहार
तीन दिवसीय यात्रा पर चीन आए पीएम नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को प्रेजिडेंट शी चिनफिंग को पत्थर की बौद्ध अवशेष मंजूषा की प्रतिकृति तथा भगवान बुद्ध की पत्थर की प्रतिमा भेंट की। इसके अलावा उन्होंने बडनगर में खुदाई के पुरातात्विक चित्र भी दिए। ये अवशेष 1957 में गुजरात के बडनगर से 80 किलोमीटर पूर्व देव-नी-मोरी में तीसरी-चौथी शताब्दी के स्तूप की खुदाई में प्राप्त हुए थे।चीनी यात्री ह्वेनसांग ने 641 ईस्वी के आसपास बडनगर की यात्रा की थी। ह्वेनसांग ने अपने लेखों में इसे आनंदपुर बताया है और हाल की खुदाई में बडनगर में दूसरी शताब्दी ईस्वी में बौद्ध केंद्रों के फलने-फूलने के साक्ष्य मिले हैं। प्रधानमंत्री गुरुवार को वाइल्ड गूज पैगोडा देखने भी गए। इसी स्थान पर ह्वेनसांग ने भारत से लाए गए सूत्रों का वर्षों तक अनुवाद किया था।अगला दौरा मंगोलिया, दक्षिण कोरिया 
शियान पहुंचने पर पीएम नरेंद्र मोदी का पारंपरिक रीति-रिवाज से स्वागत किया गया। उनके सम्मान में कलाकारों ने नृत्य-संगीत पेश करके वहां मौजूद हर किसी को आकर्षित किया। चीन के बाद पीएम मोदी मंगोलिया और दक्षिण कोरिया की यात्रा पर भी जाएंगे।

अरुणाचल प्रदेश को स्टेपल वीजा
सरकारी सूत्रों के मुताबिक, चिनफिंग से चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने अरुणाचल प्रदेश को स्टेपल वीजा दिए जाने का मसला भी उठाया। गौरतलब है कि चीन अरुणाचल पर अपना दावा जताता रहा है, जिसे भारत ने हमेशा सिरे से खारिज किया है।

अपने दौरे के पहले चीन के सरकारी चैनल सीसीटीवी से मोदी ने कहा कि मेरा मानना है कि चीन के मेरे दौरे से केवल चीन-भारत दोस्ती ही मजबूत नहीं होगी, बल्कि यह दौरा एशिया में विकासशील देशों के साथ ही दुनिया भर में संबंधों के लिए नया मील का पत्थर साबित होगा।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top