दिनांक 21 June 2018 समय 5:24 PM
Breaking News

दिग्विजय सिंह ने बिल्डर से लिए थे 10 करोड़: बीजेपी

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

Digvijaya (1)भोपाल
मध्य प्रदेश बीजेपी ने दूसरी बार कांग्रेस महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए उनपर एक स्थानीय बिल्डर को लाभ पहुंचाने के बदले करोडों रुपये लेने का आरोप लगाया है। इससे पहले बीजेपी उनपर विधानसभा में नियुक्तियों में घपले का आरोप लगा चुकी है। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने शनिवार शाम परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह और उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता की मौजूदगी में स्थानीय बिल्डर का नाम लेकर आरोप लगाया, ‘राजधानी के इस बिल्डर ने उन्हें (दिग्विजय सिंह को) करोडों रुपये की रिश्वत दी थी।’

मई 2008 में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के छापों में बिल्डर के यहां से मिली तीन डायरियों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि इससे इस भ्रष्टाचार का खुलासा हुआ है। डायरियों की प्रामाणिकता इनकम टैक्स डिपार्टमेंट परख चुका है। पार्टी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से दिग्विजय सिंह के खिलाफ जांच की मांग करेगी। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ने इनकम टैक्स के ‘अपीलीय प्राधिकरण इंदौर बेंच’ द्वारा दिए गए निर्णय की प्रतियां भी मुहैया कराईं।

उन्होंने बताया, ‘इन डायरियों में लाखों रुपये कई बार ‘सीएम’ और ‘एचसीएम’ के नाम देना दर्ज हैं, जो 2003 तक दिया गया है। ‘सीएम’ यानी चीफ मिनिस्टर और ‘एचसीएम’ यानी ऑनरेबल चीफ मिनिस्टर।’ इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री गुप्ता ने बताया कि डायरियों में कुल 10 करोड़ रुपये की राशि का उल्लेख है, जो कि तत्कालीन मुख्यमंत्री यानी दिग्विजय सिंह को दी गई थी।

प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ने इनकम टैक्स अपीलीय प्राधिकरण के 160 पृष्ठों का हवाला देकर कहा, ‘यह बिल्डर, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सामने स्वीकार कर चुका है कि इन डायरियों में लेखनी उसकी ही है। उनमें दर्ज खर्च का ब्यौरा व्यापार का लेनदेन हैय़ ये सभी प्रविष्टियां अक्टूबर 2003 से पहले की हैं।’ उन्होंने आरोप लगाया कि ‘दिग्विजय धारावाहिक’ का यह मात्र एक ‘एपीसोड’ भर है, अभी ऐसे अनेक मामले देखने को मिलेंगे।

यह पूछने पर कि क्या दिग्विजय द्वारा व्यापमं मुद्दा उठाए जाने की प्रतिक्रिया में यह बीजेपी का पलटवार है, चौहान ने कहा कि व्यापमं को लेकर झूठे आरोप लगाए गए हैं, जबकि ये तो भ्रष्टाचार का प्रामाणिक मामला है। दिग्विजय को इन मामलों के बारे में स्पष्टीकरण देना चाहिए। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष चौहान के आरोपों को लेकर जब कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह से उनकी प्रतिक्रिया जानने के लिए संपर्क करने का प्रयास किया गया, तो वह उपलब्ध नहीं हुए।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top