दिनांक 18 December 2018 समय 9:01 PM
Breaking News

डीसा में रहने वाली एक 12 वर्षीय इन दिनों चर्चा का केंद्र बनी हुई है।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail
Betwaanchal news

Betwaanchal news

डीसा (गुजरात)। डीसा में रहने वाली एक 12 वर्षीय इन दिनों चर्चा का केंद्र बनी हुई है। कारण, उसके कान से कीड़े-मकोड़ों का निकलना है। वह इस परेशानी से पिछले 6 महीने से ग्रस्त है। डॉक्टर्स भी इस गुत्थी को सुलझा नहीं पा रहे हैं, क्योंकि सारी रिपोर्ट्स नॉर्मल हैं। कान की कई बार सफाई भी की जा चुकी है।

– डीसा शहर के गायत्री नगर में रहने और पेशे से टेलर संजयभाई की बेटी श्रेया 6वीं क्लास की छात्रा है।
– लगभग 5-6 महीने पहले श्रेया के कान में तेज दर्द हुआ। डीसा के डॉक्टर्स ने प्राथमिक उपचार कर दवा दे दी।
– कान का दर्द दूसरे दिन भी खत्म नहीं हुआ, तो डॉक्टर्स ने कान की सफाई की।
– कान की सफाई में जिंदा छोटे-छोटे कीड़े-मकोड़े निकले।
– सफाई के बाद श्रेया का दर्द खत्म हो गया, लेकिन चार-पांच दिनों बाद फिर दर्द होने लगा।
– डॉक्टर्स ने फिर कान की सफाई की तो इस बार भी कान से जिंदा कीड़े-मकोड़े निकले।
इलाज के लिए अहमदाबाद लाया गया:
– डीसा के डॉक्टर्स की लाख कोशिशों के बाद भी समस्या का हल नहीं निकला।
– इसके बाद कान की जांच पाटण शहर के स्पेशलिस्ट से करवाई गई। यहां भी एक महीने तक इलाज चला, लेकिन नतीजा बेअसर।
– इसके बाद श्रेया को अहमदाबाद लाया गया, जहां कान का एक्स-रे, सिटी स्केन, एमआरआई की गई।
– अब भी श्रेया की सारी रिपोर्ट्स नॉर्मल आईं। एक महीने तक इलाज चला, लेकिन समस्या जस की तस बनी रही।
– पिछले छह महीनों से श्रेया का इलाज करवा-करवाकर परिवार भी परेशान हो गया है, लेकिन समस्या का सही कारण पता नहीं चल सका है
ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top