दिनांक 18 December 2018 समय 8:11 PM
Breaking News

ग्वालियर–हायर-सेकेंड्री परीक्षा में नकल–दुपट्‌टे रूमाल पर लिखे उत्तर

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

cheating1_1425318082 cheating2_1425318083 cheating4_1425318084 cheating5_1425318085 cheating6_1425318085 cheating8_1425318086 cheating9_1425318086 cheating10_1425318087 cheating_1425318082ग्वालियर. अंचल में सोमवार से शुरू हुई हायर-सेकेंड्री परीक्षा में नकल व अव्यवस्थाओं का बोलबाला नजर आया। पहले दिन से ही भिंड के परीक्षा केंद्रों में खुले तौर पर नकल की शिकायतें सामने आई हैं। 12बीं की बोर्ड परीक्षा में पहले दिन बच्चे विभिन्न तरीकों से नकल का सामान साथ में लाए। किसी ने दुपट्‌टे में तो कोई उंगलियों में उत्तर लिखकर लाया। जो तलाशी से पहले ही पकड़े गए। इसके बाद उनके हाथ धुलवा कर उन्हें प्रवेश दिया गया।रूमाल में कोडवर्ड लिखकर पहुंचे कई परीक्षार्थी
पद्मा स्कूल में एक छात्र ओटी(ऑब्जेक्टिव टाइप) के उत्तर रूमाल में कोडवर्ड में लिखकर पहुंच गया जिसे तलाशी के दौरान ही शिक्षकों ने पकड़ लिया। शासकीय पटेल हायर सेकंडरी स्कूल में छात्र हाथों में ओटी के उत्तर कोडवर्ड में लिखकर पहुंचे थे, जिन्हें शिक्षकों ने पकड़ लिया। इसके बाद ऐसे छात्रों के हाथ साबुन से धुलवाए।टाट-पट्टी पर छात्रों ने अंधेरे में दी परीक्षा
बोर्ड परीक्षाओं में छात्रों के लिए फर्नीचर की पर्याप्त व्यवस्था करने के दावे स्कूल शिक्षा विभाग ने किए थे। इसके बावजूद छात्राें ने शासकीय पटेल हायर सेकंडरी स्कूल व शासकीय माध्यमिक विद्यालय क्रमांक एक मुरार में टाट-पट्टी पर बैठकर 12वीं की परीक्षा दी। परीक्षार्थियों का कहना था कि टाट-पट्टी पर बैठकर परीक्षा देने से उन्हें परेशानी हुई है।

इतना ही नहीं शासकीय हायर सेकंडरी स्कूल पटेल नगर, डीएवी लोहामंडी व एमएलबी कन्या विद्यालय में छात्रों ने अंधेरे में बैठकर परीक्षा दी जबकि उत्कृष्ट विद्यालय मुरार में कुछ कमरों में बिजली की व्यवस्था देरी से की गई। यहां भी छात्रों ने अंधेरे में परीक्षा दी। इतना ही नहीं जिन स्कूलाें में लाइट की व्यवस्था थी, वहां कमरे में एक ही बल्ब लगा रखा था। इससे पर्याप्त रोशनी नहीं मिल पा रही थी। अव्यवस्थाओं के बावजूद स्कूल शिक्षा विभाग अच्छी तरह से परीक्षा आयोजित करने के दावे कर रहा है
ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top