दिनांक 18 October 2018 समय 8:50 AM
Breaking News

कार्यकर्ताओं ने ‘सत्यानाश’ कर दिया-मुलायम

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

mulayamलखनऊ

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव के बयान में आखिरकार साल 2014 के लोकसभा चुनाव में मिली शर्मनाक हार का दर्द छलक ही आया। मुलायम ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने केंद्र में सरकार बनाने के उनके सपनों पर पानी फेर दिया। मुलायम ने पार्टी कार्यकर्ताओं से यहां तक कह डाला कि उन्होंने ‘सत्यानाश’ कर दिया।

मुलायम पार्टी मुख्यालय पर डॉ. राम मनोहर लोहिया के नाम पर बने सम्मेलन कक्ष का उद्घाटन करने के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, ‘लोकसभा चुनाव में आपने कहीं का नहीं छोड़ा। अगर 40-45 सीटें जीत जाते तो केंद्र में आपकी सरकार होती। कांग्रेस भी आपका समर्थन करती। सारा सत्यानाश कर दिया।’

लोकसभा चुनाव में एसपी उत्तर प्रदेश में 80 में से केवल पांच सीटें ही जीत पाई थी। आजमगढ़ सीट से मुलायम खुद जीते जबकि उनकी बहू डिंपल यादव, भतीजे धर्मेंद्र यादव और अक्षय यादव व पोते तेज प्रताप सिंह यादव क्रमशः कन्नौज, बदायूं, फिरोजाबाद और मैनपुरी सीटों से चुनाव जीते। पार्टी कार्यकर्ताओं की बीच-बीच में नारेबाजी से नाराज मुलायम ने शिक्षक के रूप में नसीहत देते हुए कहा, ‘पार्टी में ‘चापलूसों’ की भरमार है। अच्छी बात पर ताली बजाएं, नारे ना लगाएं तो ठीक है। कितनी बार कहा कि अच्छी बात पर ताली बजाएं, नारे नहीं। यह अनुशासनहीनता अच्छी नहीं।’

राज्य में पार्टी की सरकार एक बार फिर बनाने की चुनौती स्वीकारने का आह्वान कार्यकर्ताओं से करते हुए मुलायम ने कहा कि सरकार बनाने की बड़ी चुनौती हमारे सामने है। सरकार ना बनी तो अच्छा नहीं होगा। लोकसभा चुनाव में पार्टी को मिली हार की वजह बताते हुए एसपी प्रमुख ने कहा, ‘बाबर की 13 हजार की फौज थी, जिसने भारत पर कब्जा कर लिया क्योंकि उसकी सेना अनुशासित थी, हमारी सेना बंटी हुई थी। अनुशासन में रहेंगे तो चुनाव जीत जाएंगे।’

मुलायम ने कार्यकर्ताओं को ये नसीहत भी दी कि अगर वे बेदाग रहेंगे तो लंबी राजनीति कर सकते हैं वर्ना अब लंबी राजनीति नहीं की जा सकती। मुलायम ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे विपक्षी दलों के दुष्प्रचार से सतर्क रहें। हर कोई एसपी पर हमला कर उसे कमजोर करना चाहेगा। उन्होंने कहा, ‘उत्तर प्रदेश में बीजेपी का विकल्प कांग्रेस नहीं बन सकती बल्कि एसपी ही विकल्प है। यह सबसे बड़ी पार्टी है और ये बीजेपी को रोक सकती है।’

मुलायम ने उलाहना देते हुए कार्यकर्ताओं से कहा कि वह इस बात को जानते हैं कि वे सम्मेलनों में ना तो कुछ लिखते हैं और ना ही उन्हें पार्टी संविधान और घोषणापत्र की कोई जानकारी है। उन्होंने कहा, ‘आप सबको पार्टी संविधान और 2012 के विधानसभा चुनावों के लिए तैयार पार्टी का घोषणापत्र पढ़ना चाहिए। आपको जनता को बताना चाहिए कि एसपी सरकार ने क्या किया है और किस तरह उसने अपने सभी चुनावी वायदे पूरे किए हैं।’

इससे पहले मुख्यमंत्री एवं एसपी के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि कई नारे देने के बावजूद हर किसी को पता है कि जमीनी हकीकत क्या है। उन्होंने कहा, ‘हमारी सरकार ने जनता के कल्याण के लिए कई कदम उठाए। हम 45 लाख लोगों को समाजवादी पेंशन दे रहे हैं तथा 108 और 102 ऐम्बुलेंस सेवा हर किसी को उपलब्ध है। ऐसा नहीं है कि जिन्हें लाभ मिला, वे एसपी के कार्यकर्ता बन जाएं। आपको जनता को ये बात समझानी होगी।’

अखिलेश ने कार्यकर्ताओं को आगाह किया कि वे मोबाइल और समाचार चैनलों से सावधान रहें क्योंकि वे अच्छाई के बावजूद कहीं न कहीं भ्रम की स्थिति पैदा कर देते हैं।

ShareGoogle+FacebookLinkedInTwitterStumbleUponEmail

comments

About Pradeep Rajpoot

Pradeep Rajpoot is a social activist, businessman and editor in chief of Betwa Anchal weekly news paper.
Scroll To Top